लाकडाउन के दूसरे दिन भी कई भूमिका में नजर आई पुलिस, सुबह नियम तोड़ने वालो पर डंडे चलाए तो रात में गरीबों को खिलाए खाना , पूरी तरह बंद रहा खड़गपुर शहर, जरुरी सेवाओं के लिए निकले लोग

खड़गपुर। वैश्विक आपदा कोरोना के चलते हुए लाकडाउन के दूसरे दिन आज पुलिस को लोगों को जहां डंडा चला खदेड़ना पड़ा वहीं रात में गरीबों को खाना भी खिलाए। मंगलवार को राज्य की ओर से घोषित किए गए लाकडाउन के दूसरे दिन यूं तो शहर की सड़कें सूनसान रही पर कई मनमाने लोग तफरीह करते नजर आए जिसके कारण पुलिस को कौशल्या, इंदा, गोलबाजार, मलिंचा सहित कई जगहों में डंडा चला खदेड़ना पड़ा।

                      
खड़गपुर वर्कशाप, डीआरएम कार्यालय में लाकडाउन होने के कारण लोग अपने घरों में दुबके रहे केंद्र व राज्य सरकार के कार्यालय बंद रहे सिर्फ कुछ कार्यालयों में जरुरी काम हुए। इधर रेल प्रशासन की ओर से भिखारियों को स्टेशन परिसर से खदेड़ देने के कारण लोग बोगदा व इधर उधर पड़े दिखे। इधर पुलिस प्रशासन की ओर से शाम में फिर से दुकानदारों को बंद कराने के लिए निकलना पड़ा।

एसडीपीओ खड़गपुर सुकमल कांति दास का कहना है कि सख्ती नहीं बरतने से दुकानदार व लोग दोनों ही जोखिम लेने को तैयार रहते हैं।
इधर रात में एडिशनल एसपी काज शमसुद्दीन अहमद खड़गपुर शहर थाना प्रभारी व अन्य वरीय अधिकारी गरीब व बेघरों को खाना खिलाते नजर आए गिरि मैदान, गोलबाजार, बोगदा सहित अन्य जगहों पर सोए हुए भिखारियों को खाना खिलाया गया।   

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post