होम्योपैथी के कच्चे अलकोहल में नशीली चीजें मिला पीने से कथित तौर पर दो की मौत, दो बीमार, मामले की जांच जारी, शराब नहीं मिल पाने से परेशान है सुरा प्रेमी


खड़गपुर। लाकडाउन में शराब नहीं मिल पाने के कारण परेशान है सुराप्रेमी इधर शराब के बजाय नशा के लिए होम्योपैथिक दवा बनाने के लिए उपयोग किया जाने वाला अल्कोहल में नशीली चीज मिला पीने से 2 लोगों की मौत हो गई जबकि दो लोग अस्वस्थ हो गए। घटना पूर्व मेदिनीपुर जिले के मारिशदा थाना इलाके के शिल्लीबाडी़ गांव कि है। मरने वालों में पंकज दास(42) व भरत दास(33) शामिल है। जबकि अस्वस्थ हुए लोगों को कांथी महकमा अस्पताल में भर्ती कराया गया जिसमें एक महिला भी है। जानकारी के मुताबिक होम्योपैथिक ब्राइओनिया-30 के मदर दवा का सेवन कुछ अन्य नशीली चीजों के साथ इन लोगों ने शुक्रवार की रात किया था  जिसमें से दो की मौत शनिवार क रात हो गई।  पुलिस शव को बरामद कर अंत्यपरीक्षण के लिए भेजा है व जांच के बाद पता चल पाएगा की मौत कैसे हुई इधर खड़गपुर शहर सहित पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर तथा झाड़ग्राम जिले के लोग शराब का सेवन नहीं कर पाने के कारण परेशान है। शुक्रवार को आनलाइन बिक्री की खबर पाकर खड़गपुर के कई शराब दुकानों में लंबी लंबी लाईन लग गई हांलाकि भारी भरकम भीड़ व सोशल डिस्टेंसिंग ना हो पाने के कारण प्रशासन सभी को खदेड़ दिया व होम डिलीवरी की योजना भी बंद कर दी गई खड़गपुर के बिलमोरिया में ही दो घंटे में लगभग दो हजार लोग शराब खरीदने पहुंच गए थे। इधर खरीदा स्थित शराब भट्टी में कई लोग आधार कार्ड लेकर शराब लेने पहुंच गए थे। शराब विक्रेता नाम ना बताने पर बताया कि प्रशासन की ओर से आनलाइन बिक्री की बात कही गई थी पर भारी भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने आनलाइन शराब बिक्री पर रोक लगा दी। कई शराब विक्रेताओं का कहना है कि दुकानों में स्टाक की कमी हो रही है चोरी छिपे जो शराब मिल रही है उसका लोग तीन से चार गुणा मनमानी दाम वसूल रहे हैं।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

Advisement

KGP News
KGP News