खड़गपुर के इमामों सहित तीन लोगों को क्वारेंटाईन होम में भेजा गया, पुलिस ने लोगों को माला पहना लाकडाउन मानने के लिए समझाया, भाजपा ने सतकुई मामले में एसडीओ को सौंपा ज्ञापन


खड़गपुर। दिल्ली के जमात से खड़गपुर पहुंचे मौलवियों के मामले में आज खड़गपुर के तीन और मौलवियों को सतकुई स्थित क्वारेंटाईन होम में भेजा गया। ये तीनों खड़गपुर शहर के बैतुल, बिलाल मस्जिद व इंदा के ईदगाह मस्जिद से जुड़े हैं। ज्ञात हो कि पुलिस कल कुल 9 लोगों को क्वारेंटाईन में भेजा था जिसमें से 7 इंडोनेशियाई व दो भारतीय मौलवी थे। ये सभी 9 लोग पूर्वा एक्सप्रेस से हावड़ा होते हुए खड़गपुर आए थे यहां से इन लोगों को धर्म प्रचार के लिए आसनसोल सहित कोयलांचल के कई मस्जिदों में जाना था पर  लाकडाउन होने के कारण ये लोग खड़गपुर से सतकुई चले गए थे जहां ये लोग धर लिए गए। इन सभी को कोलकाता क्वारेंटाईन में रखा गया है चूंकि ये लोग सतकुई मस्जिद जाने के पहले खड़गपुर के तीन मस्जिद भी गए थे इसलिए उन मस्जिदों से जुड़े मौलवी व अन्य पदाधिकारियों को क्वारेंटाईन में भेजा गया ताकि संक्रमण ना फैले।
इधर लाकडाउन की उपेक्षा करने वाले लोगों को घर में रहने के लिए खड़गपुर महकमा प्रशासन पुलिस की मदद से खड़गपुर की सड़कों पर उतरी व बेवजह घूमने वाले लोगों के गले में फूल माला डाल व जरुरत पड़ने पर लाठियां भांज लोगों को समझाने की कोशिश की ज्ञात हो कि लाकडाउन होने के बावजूद कई लोग बेवजह बाहर घूम रहे हैं प्रशासन का कहना है कि जाने अनजाने ये लोग रोक के वाहक बन जाएंगे इसलिए कभी समझाबुझाकर व कभी कड़ाई से लोगों को लाकडाउन मानने को कहा गया। गुरुवार की रात एसडीओ वैभव चौधरी, एडिशनल एसपी काजी शमसुद्दीन अहमद, एसडीपीओ सुकमल कांति दास व खड़गपुर शहर थाना प्रभारी राजा मुखर्जी, विधायक प्रदीप सरकार व अन्य अभियान में शामिल थी जो कि इंदा, खरीदा, छत्तीसपाड़ा, गोलबाजार व अन्य जगहों में गए।
इधर सतकुई घटना के बाद भाजपा के प्रतिनिधिमंडल एसडीओ वैभव चौधरी से मिले व बाहरी मौलवियों के खड़गपुर सहित अन्य जगहों में अबाध तरीके से घूमने के बाद कड़ाई से पेश आने व लाकडाउन को लागू करने की मांग की गई। भाजपा नेता प्रेमचंद झा ने बताया कि एसडीओ ने उनलोगो की मांग पर विचार करने का आश्वासन दिया है। 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

Advisement

KGP News
KGP News