खड़गपुर में बन रहा है पीपीई किट, महिलाएं भी बना रही है किट


# रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण को नियंत्रण में रखने के लिए डाक्टर व मेडिकल स्टाफ के लिए साउथ ईस्टर्न रेल्वे की ओर से पीपीई किट बनाया जा रहा है जिसका निर्माण खड़गपुर डिवीजनल रेल्वे मैनेजर के नेतृत्व में खड़गपुर वर्कशाप व डिवीजनल यूनिट में किया जा रहा है। ज्ञात हो कि पीपीई किट में फेस कवर, आंखों का कवर, एन-95 मास्क, जूतों का कवर, दस्ताने समेत पुरे शरीर का कवर टोपी से साथ मौजूद रहेगा। साउथ ईस्टर्न रेलवे की ओर से विशेषज्ञों की निगरानी में व पूरी सुरक्षा के साथ जरूरत के मुताबिक किट का निर्माण किया जा रहा है। किट के निर्माण में लगे वर्कर भी विशेष सुरक्षा बरत रहे है व यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है बनने वाला किट क्वालिटी एप्रूव्ड हो।
ज्ञात हो कि खड़गपुर वर्कशाप के सीडब्ल्यूएम शुभेंदु कुमार चौधरी के अधीन बीते दिनों पीपीई निर्माण का काम शुरू किया व अब तक 52 पीपीई किट बना चुकी है जबकि डिवीजनल यूनिट ने हुनक के माध्यम से अब तक 20 पीपीई किट बनाया है कुल मिलाकर एसईआर तब तक तब तक 72 किट बना चुकी है। ज्ञात हो कि निर्माण कार्य पूरा होने के बाद पीपीई किट को सावधानी से पहले पॉलिथीन बैग व फिर कार्टून में पैक कर रेलवे अस्पतालों में डिस्पैच किया जा रहा है। खड़गपुर रेल डिवीजनल युनिट किट सर्वों के अधीन काम कर रहे हुनर के स्वंयसेवियों से किट तैयार करवा रही है जहां महिलाएं किट बना रही है।
हुनर की ओर से आयोजित पत्रकार सम्मलेन को संबोधित करते हुए सीनियर डीसीएम आदित्य कुमार चौधरी ने बताया कि पौशाक, जूते वगैरह के लिए कपड़े रेल ने दिए हैं जबकि हुनर की महिलाएं इसके निर्माण में सहायता दे रही है खड़गपुर डिवीजन को कुल 1000 किट बनाने को रेल बोर्ड ने निर्देश दिया है। सर्वो की अध्यक्षा प्रिया प्रधान ने कहा कि देश की जरुरत के समय सर्वो अपना दायित्व पूरा करने के लिए कटिबद्ध है। इस अवसर पर सीनियर  डीएमई संजय वैष्णव, डीएमई कार्तिकेय श्रीवास्तव, आकांक्षा गुप्ता, अमिताभ वैष्णव, टी.एस राव, मृणाल भट्टाचार्य व अन्य उपस्थित थे।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post