रिलीफ क्वार्टर के लोगों ने राहत सामग्री वापस लौटाई, चेयरमैन क्षुब्ध आरामबाटी में भी राशन डीलर को लेकर बवाल, डेबरा में भी लोगों ने काटा बवाल


खड़गपुर। खड़गपुर नगरपालिका के वार्ड संख्या 20 के धनसिंग मैदान के समीप स्थित रिलीफ क्वार्टर के लोगों ने चेयरमैन व पार्षद प्रदीप सरकार की ओर से दिए गए राहत सामग्री वापस कर दी। पता चला है कि बस्ती इलाके के कुछ घरों में चेयरमैन ने मंगलवार बतौर राहत दो किलो चावल दिए थे पर स्थानीय लोग दो किलो चावल दिए जाने से चावल की गुणवत्ता व मात्रा दोनों कम होने का आरोप लगा राहत सामग्री वापस लौटा दी पता चला है कि घटना से चेयरमैन प्रदीप सरकार नाखुश है हांलाकि उनसे प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई।
इधर आरामबाटी इलाके में स्थानीय युवकों पर दो लाख रु फिरौती की मांग का आरोप लगा है आऱोप है कि बीते दिनों सालिशी सभा आयोजित कर राशन डीलर माया मजूमदार को रु देने की बात कही गई व राशन कम देने के लिए उसे अपमानित किया गया ज्ञात हो कि उक्त बैठक में वार्ड पार्षद सनातन लाल यादव भी उपस्थित थे राशन विक्रेता के आरोप पर खड़गपुर खाद्य विभाग के अधिकारी सौम्य चटर्जी का कहना है कि स्थानीय लोगों ने डीलर को अपमानित किया इस बात की खबर है व पैसे की माग की गई पर कितने रु की मांग की गई यह वह नहीं बता सकते। वार्ड 32 के पार्षद सनातन यादव का कहना है कि डीलर कम राशन देती थी इसलिए बुधवार को डीलर से मिलकर कमेटि बना मामले को सुलझा लिया गया है अब राशन देते वक्त कमेटि के लोग निगरानी करेंगे हांलाकि फिरौती मांगने की घटना से उसने इंकार किया है।
इधर डेबरा थाना इलाके के राधामोहनपुर गांव के समीप बीते दिनों गांववालों ने राशन का चावल ले जाते वक्त तारापद खाटुआ नामक एक राशन शाप में काम करने वाले कर्मचारी को रंगे हाथ पकड़ा। गांव वालों का कहना है कि इससे पहले भी पिकअप वैन की मदद से राशन डीलर ने चार बोरी चावल दूसरे जगह भेज दी है। वहीं इस मामले में तारापद व राशन डीलर पार्थसारथी अपने ऊपर लगाए गए आरोप से इंकार किया है गांव वालों का कहना था कि अगर वे निर्दोष है तो फिर रात के अंधेरे में ही क्यों चावल ले जा रहे थे लोगों को भड़के देख पुलिस थाना ले जाकर तारापद से पूछताछ की।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post