झाड़ग्राम में दो भाई व मेदिनीपुर में एक स्वास्थयकर्मी युवती कोरोना पाजिटिव निकली, तीनों का पांशकुड़ा के बोड़ोमा अस्पताल में चल रहा है इलाज

                             रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। पश्चिम मेदिनीपुर जिले में एक व झाड़ग्राम में कोरोना पाजिटिव के दो नए मामले सामने आने से स्वास्थ्य दफ्तर के लिए चिंता बढ़ गई है ज्ञात हो कि खीरपाई के वृद्ध के इलाज से जुड़ी एक युवती में कोरोना पाजिटिव पाया गया। ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि युवती उसी वृद्ध के कारण संक्रमित हुई है। मिली जानकारी के अनुसार कोलकाता जाने से पहले वह वृद्ध मेदिनीपुर के निजी अस्पताल में भर्ती था उस समय अस्पताल के सभी लोगों का ब्लड सैंपल लिया गया था बाद में वृद्ध के कोलकाता में कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बाद सभी सैंपल को जांच के लिए भेजा गया जिनमें से उक्त युवती जो कि स्वास्थय कर्मी है कोरोना पाजिटिव निकली। ज्ञात हो कि अभी पिछले दिन ही स्वास्थ्य दफ्तर द्वारा जारी किए गए रिपोर्ट में पश्चिम मेदिनीपुर जिले में कोरोना की हालत में सुधार बताया गया था अब फिर से एक नया मामला सामने आने से सभी लोग चिंतित हो उठे है। इस मामले में जिले के मुख्स स्वास्थ्य अधिकारी गिरिश चंद्र बेरा ने बताया कि संक्रमित युवती को इलाज के लिए बोड़ोमां अस्पताल में भेज दिया गया है वहीं उसके परिजनों को जानकारी दी जा रही है उन्होनें लोगों से अपील करते हुए कहा कि घबराने की बात नही है केवल सतर्क रहना है व संयम बरतने की जरुरत है। इधर मामला सामने आने के बाद मेदिनीपुर शहर में बनाए गए कंटेनमेंट जोन में व्यवस्था और कड़ी कर दी गई है मेदिनीपुर शहर के भीतर यह पहला मामला है

                  
इधर झाड़ग्राम जिले के नयाग्राम इलाके के रहने वाले दो भाईयों में कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बाद से जिले के लोग आतंकित हो उठे। जिसके बाद जिले के स्वास्थ्य दफ्तर की ओर से बयान जारी कर लोगों को आश्वस्त किया गया कि संक्रमित दोनों भाई में वायरस कोलकाता में रहने के कारण आया है झाड़ग्राम जिले के लोग फिलहाल सुरक्षित है। जानकारी के अनुसार दोनों भाई कोलकाता के पार्क स्ट्रीट इलाके में एक रेस्तरां में काम करते है व वहीं बेग बागान इलाके में किराए के घर में रहते थे लेकिन पिछले डेढ़ महीने से कामकाज बंद होने के कारण रेस्तरां मालिक ने उन्हें सैलरी नहीं दिया इधर मकान मालिक द्वारा किराया मांगे जाने पर विवश होकर दोनों भाई झाड़ग्राम आने के लिए कोलकाता से निकल पड़े। बीते 1 मई को वह किसी तरह पुलिस की नजरों से बचते हुए पश्चिम मेदिनीपुर जिले के केशियाड़ी थाना पहुंचे जहां से वे भसराघाट के रास्ते से नयाग्राम पहुंचने वाले थे लेकिन रास्ते में पुलिस ने उन्हें रोककर पूछताछ की व फिर बाकी लोगों को क्वॉरेंटाइन कर उन दोनों भाइयों में कुछ लक्षण दिखने के बाद उन्हें झाड़ग्राम सुपर स्पेशलिटी अस्पताल ले जाया गया जहां से उनका रक्त संग्रह कर जांच के लिए मेदनीपुर मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया। बाद में जांच रिपोर्ट में दोनों भाई कोरोना पाजिटिव पाए गए जिसके तुरंत बाद उन्हें इलाज के लिए पाशकुडा़ के बोड़ोमा अस्पताल भेज दिया गया। ज्ञात हो कि इससे पहले भी झाड़ग्राम में कोरोना के एक रोगी पाए गए थे जिसका की बोड़ोमा अस्पताल में इलाज कराया गया था झाड़ग्राम ग्रीन जोन में है दो भाईयों के पाजिटिव निकलने से चिंतित है जंगलमहल के लोग। 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post