आरपीएफ के छह जवान कोरोना को मात दे पहुंचे खड़गपुर, एहतियातन रहेंगे क्वारेंटाईन सेंटर में खड़गपुर ग्रामीण ब्लाक की अधेड़ महिला कोरोना पाजिटिव, हावड़ा में चिकित्साधीन

                          रघुनाथ प्रसाद  साहू
खड़गपुर। कोरोना वायरस से ग्रसित 6 आरपीएफ के जवान जो खड़गपुर शहर के रहने वाले थे सोमवार को कोरोना को मात दे वापस खड़गपुर लौट आए हैं इस खबर से रेल प्रशासन, खड़गपुर शहर व राज्य सभी ने राहत कि सांस ली है। ज्ञात हो कि बीते दिनों दिल्‍ली से अस्त्र ले लौटने के बाद ये जवान कोरोना की चपेट में आ गए थे जांच में वे कोरोना पाजिटिव पाए गए जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए मेछोग्राम के बोड़ोमा अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां लगभग 11 दिनों तक इलाज चलने के बाद उनका इलाज सफल रहा और उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई जिसके बाद आज उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई और वे जवान अपने-अपने घर लौट आए। हालांकि ऐहतियात बरतने के उद्देश्य से उन्हें अभी 14 दिन होम क्वारंटाइन में रहना होगा। खड़गपुर रेल मंडल के सीनियर डीसीएम आदित्य चौधरी का कहना है कि खड़गपुर के छह जवान आज स्वस्थ हो लौटे हैं इनलोगों को एहतियातन क्वारेंटाइन में रखा जाएगा। ज्ञात हो कि खड़गपुर रेल मंडल के कुल 11 जवान कोरोना पाजिटिव हुए थे जिसमें से मेचेदा के जवान पहले ही निगेटिव होने पर क्वारेंटाइन में भेज दिया गया है जिससे कुल चार जवान ही चिकित्साधीन है जिसमें से दो बंगाल, एक उड़ीसा व एक झाड़खंड में चिकित्साधीन है।
इधर राज्य प्रशासन की ओर से खड़गपुर रेल मुख्य अस्पताल में भर्ती कोरोना पाजिटिव जवान को कोरोना अस्पताल में स्थानातंरण करने की अनुमति ना मिलने से क्षुब्ध है खड़गपुरवासी। रेल प्रशासन का कहना है कि उक्त जवान को कोरोना अस्पताल में भर्ती के लिए जिला प्रशासन को चार पत्र लिख चुके हैं जिला के मुख्य स्वास्थय अधिकारी गिरिश चंद्र बेरा का कहना है कि पत्र मिली है जिसे राज्य सरकार को भेज दिया गया है अनुमति मिलने के बाद आगे कार्रवाई होगी। आरपीएफ जवान के स्वस्थ होने से जहां खड़गपुर वासी राहत की सांस ली है वहीं खड़गपुर ग्रामीण थाना इलाके की 56 वर्षीय गृहवधु के कोरोना पाजिटिव होने से जिला स्वास्थय विभाग सतर्कता बरतते हुए महिला के परिजन सहित कुल 15 लोगों को क्वारेंटाईन में भेज दिया है।ष पता चला है कि बीते 18 अप्रैल को महिला को कार मे हावड़ा के नारायणी सुपरस्पेशलिटी अस्पताल में दाखिला कराया गया जहां ब्लड कैंसर का इलाज चल रहा था। इलाज के दौरान महिला कोरोना पाजिटिव पाया गया है जिसके बाद प्रशासन सतर्क हो गई है व परिजन सहित अन्य लोगों को होम क्वारेंटाइन में रहने को कहा है। 





0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post