पश्चिम मेदिनीपुर जिले में कोरोना के 6 नए मामले, बोड़ोमा अस्पताल में चल रहा है इलाज, पीड़ित बाहरी राज्यों से आए श्रमिक है, परिजनों को एहतियातन क्वारेंटाईन में भेजा जा रहा है

                          रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। अन्य राज्यों से आए श्रमिकों के चलते पश्चिम मेदिनीपुर जिले में कोरोना के आंकड़ो में तेजी उछाल आया है बीते 24 घंटे में जिले में कोरोना के 6 नए पॉजिटिव  केस मिले हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक जिले के दासपुर के तीन व केशपुर में तीन लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।  जिनमें  2 महिलाएं शामिल हैं पता चला है कि यह सभी बीते दिनों श्रमिक स्पेशल ट्रेन के माध्यम से मुंबई व दिल्ली से जिले में लौटे थे। होम क्वॉरेंटाइन में रहने के दौरान इनमें कोरोना के लक्षण पाए गए। बाद में जांच की गई तो यह सभी पॉजिटिव मिले जिसके बाद प्रशासन की ओर से उन्हें बरामद कर पांशकुड़ा के बोड़ोमा कोविड अस्पताल  में भर्ती कर दिया गया। इस मामले में जिले के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी गिरीश चंद्र बेरा ने बताया कि मरीजों के परिजनों की शिनाख्त कर उन्हें क्वॉरेंटाइन सेंटर में भेजा जा रहा है। इधर प्रशासन की ओर से दूसरे राज्यों से आए लोगों की पहचान कर उनके स्वास्थ्य का जायजा लिया जा रहा है। इस तरह बीते 48 घंटे में पश्चिम मेदिनीपुर जिले के नाम नौ नए मरीज पाए गए हैं। ज्ञात हो कि आरपीएफ जवानों के कोरोना पाजिटिव पाए जाने से केंद्र सरकार ने जिले को रेड जोन में रख दिया था जिले में कुछ अन्य मामले भी आए थे पर ज्यादातर ठीक हो गए थे। पर ट्रेनों से श्रमिकों के आने के बाद गांवो में कोरोना पाजिटिव मामले में उछाल आया है ज्ञात हो कि मंगलवार को कोरोना के तीन लोग पाजिटिव पाए गए थे। जिसमें मेदिनीपुर वाशिंदा मुंबई से आए श्रमिक हुए पाजिटिव हुए हैं इसके अलावा इसी जिले के दो अन्य भी पाजिटिव पाए गए हांलाकि दोनों कोलकाता में पाए गए हैं पाजिटिव लेकिन जिले के वाशिंदा होने के नाते आईसीएमआर की सूची में कुल तीन कोरोना पाजिटिव जिले से थे। ज्ञात हो कि जिले के प्रथम कोरोना पाजिटिव भी घाटाल महकमा के थे जो कि मुंबई से आए श्रमिक थे बाद में उसके परिजन भी पाजिटिव हो गए थे हांलाकि फिलहाल वे सभी स्वस्थ है। अंफान के मचाए तबाही व कोरोना के बढ़ते मामले ने जिला प्रशासन के लिए चिंता बढ़ा दी है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post