.....और आखिरकार 26 घंटे बाद खुला बिग बाजार व पूजा माल पूजा माल को लेकर कर्मचारियों व प्रबंधन के बीच अंतरिम समझौता, बिग बाजार कर्मचारियों की तनख्वाह को लेकर लगी प्रशासन से इंटक व एटक का गुहार

                           रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। ... और आखिरकार 26 घंटे की मशक्क्त के बाद पुलिस के समक्ष पूजा माल को लेकर कर्मचारी व प्रबंधन के बीच अंतरिम समझौता हुआ है जिसके अनुसार पूजा माल के कर्मचारियों को पूरे 26 दिनों की तनख्वाह व 1500 रु बोनस जल्द मिलेंगे जबकि मई को लेकर जितना दिन काम होगा उतने का ही पेमेंट होगा जबकि इंसेंटिव को लेकर अभी स्थिति साफ नहीं है। बीजेएमटीयू नेता शैलेष शुक्ला का कहना है कि मई माह से इंसेटिंव का पैसा स्थिति सामान्य होने पर एडजस्ट किया जाएगा। हांलाकि प्रबंधन से जुड़े पदाधिकारी ने फोन रिसीव नहीं किया जिससे उसकी प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई। पुलिस का कहना है कि अप्रैल में 26 दिनों की तनख्वाह व 1500 रु इंसेंटिव देने को सहमति बन गई है।समझौता हो जाने से लगभग 50 कर्मचारी लाभान्वित होंगे। ज्ञात हो कि बीजेएमटीयू पूजा माल शाप ओनर्स वेलफेयर सोसायटी ने मुख्य गेट पर ताला झूला दिया था जिससे बिग बाजार व पूजा माल दोनों बंद था जबकि आज दोपहर ताला खोल देने से लगभग एक बजे से बाजार चालू हो गया हांलाकि खरीददार नदारद दिखे।

बिग बाजार को लेकर एसडीओ से मिले इंटक व एटक नेता
खड़गपुर। एक ओर जहां बीजेएमटीयू पूजा माल के कर्मचारियों की समस्या को लेकर प्रबंधन के साथ खड़गपुर शहर थाना में बैठक कर रहे थे वहीं सुबह 11.30 बजे इंटक नेता देबाशीष चौधरी व एटक नेता वी शेषगिरी राव के बिग बाजार के 240 कर्मचारियों के बीते डेढ़ माह से तनख्वाह नही मिलने को लेकर एसडीओ वैभव चौधरी से मिलने की खबर है। एटक नेता वी शेषगिरि राव ने बताया एसडीओ से मिल कर तनख्वाह बिग बाजार के कर्मचारियों के लिए तनख्वाह जल्द दिलाने व लाकडाउन के दौरान 26 लोगों को नौकरी से निकाल देने का मुद्दा भी उठाया गया। राव ने बताया कि हालात को लेकर एसपी सहित अन्य पुलिस अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। ज्ञात हो कि बीते पांच दिनों से बिग बाजार के कर्मचारी भी वेतन की मांग पर आंदोलनरत है। पूजा माल के कर्मचारियों के तालाबंदी के कारण बिग बाजार भी बंद रहा।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post