ईद में मातम पसरा राजू अली के गांव में, दासपुर थाना के चकप्रसाद गांव का रहने वाल था राजू, लाकडाउन के कारण पैदल ही निकल पड़ा था दासपुर के लिए


खड़गपुर। ईद अपने परिवार के साथ मनाने की चाहत में मुंबई से पैदल चलकर ही गांव लौटने कि कोशिश में पश्चिम मेदिनीपुर जिले के दासपुर का रहने वाला शेख राजू अली(30) कि रास्ते में ही मौत हो गई। पता चला है कि दासपुर के चकप्रसाद गांव का रहने वाला राजू मुंबई में रहकर ही काम करता था।
बीते 2 महीने से लाकडाउन  हो जाने की वजह से काम धंधा बंद हो गया जिसके कारण वह घर आना चाहता था लेकिन ट्रेन बंद होने कि वजह से आ नही पा रहा था। उसके पास कमाऐ हुए पैसे भी खत्म हो गए थे। इधर ईद होने की वजह से भी उसने पैदल ही घर लौटना चाहा लेकिन जिंदा घर आ ना सका। पुलिस सूत्रों के मुताबिक बीते 20 मई को राजू महाराष्ट्र के भुसावल के समीप रेलवे ट्रैक के पास अचेत अवस्था में पाया गया।
पुलिस ने उसे बरामद कर स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन हालत ज्यादा खराब होने की वजह से उसकी मौत हो गई मगर अंफान तूफान के कारण महाराष्ट्र पुलिस देर से राजू के परिजनों को सूचना दी। कोरोना भय के कारण राजू के शव को महाराष्ट्र सरकार ने ही दाह संस्कार कर दिया पता चला है कि लाकडाउन शुरु होने के कुछ दिन पहले ही राजू दासपुर से मुंबई के लिए रवाना हुआ था घटना से पूरे गांव में शोक का माहौल है।ज्ञात हो कि तीस वर्षीय राजू के तीन बच्चे है।
इधर रविवार शाम ईद का चांद दीदार करने के बाद सोमवार को खड़गपुर सहित पूरे पश्चिम मेदिनीपुर जिले में ईद मनाया गया।   

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

Advisement

KGP News