खड़गपुर में शुक्रवार से खुली ज्यादातर दुकानें, पर सोशल डिस्टेंसिंग नियमों की हो रही उपेक्षा, कहीं भीड़भाड़ तो कहीं खाली रहे दुकान

                         रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। खड़गपुर शहर में शुक्रवार से ज्यदातर दुकानें खुल गई जिससे बाजार की रौनक लौटने लगी है लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ठीक से नहीं होने के कारण कोरोना के संक्रमण का खतरा भी बढ़ गया है।ज्ञात हो कि शहर के गोलबाजार, गेटबाजार खरीदा बाजार, मलिंचा सहित अन्य बाजारों की ज्यादातर दुकानें आज खुली रही  सुबह से ही ग्राहकों की अच्छी खासी भीड़ उमड़ी। कई दुकानों में लंबी लाईनें लगी तो कई दुकानें सूनी पड़ी रही। ज्ञात हो कि राज्य सरकार 21 से दुकानें खोलने को कहा था जिसके कारण गुरुवार को अपेक्षाकृत ज्यादा दुकानें खुली पर प्रशासन की ओर से औपचारिक अनुमति मिलने के बाद ज्यादातर दुकानें आज खुली व्यापारियों ने बताया कि प्रशासन ने दुकाने खोलने की अनुमति दी है जिसके कारण धीरे धीरे स्थिति सामान्य होने लगी है। इधर बंगीय स्वर्ण समिति की ओर से खड़गपुर शहर थाना में पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर गाइडलाइन की जानकारी ली गई। समिति से जुड़े गौतम कर्मकार ने बताया कि पुलिस दुकानदारों को भीड़ ना करने, सेनिटाइजेशन करने व मास्क ना पहनने वाले ग्राहकों को सामान ना देने की बात कही है। इधर स्वर्ण व्यापारी शैलेष शुक्ला का कहना है कि ज्यादातर स्वर्ण दुकानें तो खुल गई पर स्वर्ण गलाने वाले ज्यादातर कारीगर महाराष्ट्र के सांगली जिले के रहने वाले हैं ज्यादातर श्रमिक लाकडाउन के कारण अपने गांव चले गए हैं जब तक वे लोग वापस नहीं आते स्वर्ण कारीगरी के काम में मंदी छाई रहेगी। इधर आलू प्याज सहित अन्य सामानों के खुदरा व्यापारियों की ओर से मनमानी तरीके से दाम बढ़ा देने की शिकायत को देखते हुए kgpnews में प्रतिदिन सामानों की होलसेल रेट देख सकते हैं। खुदरा बाजार में अगर दुकानदार मनमानी रेट वसूले तो एसडीओ से इसकी शिकायत कर सकते हैं।  Kharagpur potatoes & onion Merchants welfate association के महासचिव जावेद अहमद ने बताया कि प्याज बाजार आज मंदा है आलू प्याज के लिए गोलबाजार होलसेल रेट शनिवार के लिए इस तरह है।
आलू गढ़ यानि मिक्स साइज- 15रु प्रति किलो, समान साइज 16 रु किलो
प्याज छोटा-10 रु, मीडियम-11 रु व बड़ा साइज 12 रु प्रति किलो
ज्ञात हो कि प्याज नासिक रेट 5 से 6 रु प्रति किलो है।   

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post