खड़गपुर शहर में तीन नए कोरोना पाजिटिव पाए गए, देबलपुर के दो रोगियों को बोड़ोमा व चांदमारी कैंटीन ठेकेदार को कोलकाता के निजी नर्सिंग होम में होगा इलाज, ठेकेदार के आवासीय इलाके सुभाषपल्ली में किया गया कंटेनमेंट .

                         रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। खड़गपुर शहर में तीन नए कोरोना पाजिटिव पाए गए जिसमें से देबलपुर के दो रोगियों को बोड़ोमा व चांदमारी कैंटीन ठेकेदार को कोलकाता के निजी नर्सिंग होम भेजा गया है इधर घटना के बाद ठेकेदार के आवास  सुभाषपल्ली में कंटेनमेंट जोन किया गया है। ज्ञात हो कि खड़गपुर शहर में जो तीन नए पाजिटिव मिले हैं ये सभी पहले के रोगियो के संपर्क में आने के कारण हुए हैं व ये सभी क्वारेंटाईन में थे इन लोगों क सैंपल जांच के लिए गया था।
ज्ञात हो कि खड़गपुर महकमा अस्पताल के कैंटीन ठेकेदार कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बा उसे कोलकाता के निजी नर्सिंग में इलाज के लिए भेजा गया है। कैंटीन के सहयोगी 17 वर्षीय किशोर के पाजिटिव पाए जाने के बाद कैंटीन ठेकेदार, कर्मचारी सहित कुल 17 लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था जिसमें से सुभाषपल्ली निवासी अधेड़ ठेकेदार का कोरोना पाजिटिव रिपोर्ट आया है। आरोप है कि किशोर की तबियत खराब होने के बावजूद उसे घर नहीं भेजकर कैंटीन में ही रखकर काम लिया जा रहा था श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के यात्रियों को सेवा दिया था आशंका है कि वहीं से किशोर संक्रमित हुआ था। घटना के बाद से ही कैंटीन को बंद कर कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है इधर बीते सप्ताह से ही आउटडोर में भी रोगियों का आना कम हो गया है।
जबकि देबलपुर के 47 वर्षीय वयक्ति की मेदिनीपुर में कोरोना से मौत होने के बाद क्वारेंटाईन में भेजे गये लोगों में मृतक की लगभग 40 वर्षीय पत्नी व 22 वर्षीय बहू को पाजिटिव आया है दोनों को खड़गपुर कालेज के इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाईन से निकाल कर बोड़ोमा अस्पताल इलाज के लिए भेजा है जबकि मृतक के दामाद, बड़े भाई सहित कई अन्य अभी भी क्वारेंटाईन में है पांच नंबर वार्ड के पूर्व पार्षद के पति व रेलकर्मी मो. अनीस ने बताया कि दो लोगों के पाजिटिव आने के बाद इलाज के लिए भेजा गया है व बाकी का जांच चल रहा है। उन लोगों को क्वारेंटाईन में ही अन्यत्र शिफ्टिंग किया गया है इधर पहले से ही देबलपुर में कोरोना पाजिटिव पाए जाने से इलाके को कंटेनमेंट घोषित कर दिया गया था। खड़गपुर महकमा अस्पताल के अधीक्षक कृष्णेंदु मुखर्जी का कहना है कि चांदमारी के 16 लोग निगेटिव आए हैं सिर्फ ठेकेदार का पाजिटिव आय़ा है उसे कोलकाता के निजी अस्पताल जाने की खबर है उन्होने बताया कि प्रशांत के तबियत बिगड़े हुए नहीं थे व किशोर जो पहले प्रभावति हुए थे वह भी स्वस्थ है। उसने बताया देबलपुर मामले में क्वारेंटाईन में रह रहे तीन लोगों की जांच नहीं की गई थी कुल 8 लोगों के सैंपल भेजे गए थे जिसमें से दो पाजिटिव है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post