श्रमिक स्पेशल से केरल से आ रही बच्ची ने ट्रेन में दम तोड़ा, 12 घंटे के बाद खड़गपुर में शव को उतार अंत्यपरीक्षण कराया गया


रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। ट्रेन में सफर के दौरान नवजात बच्ची की मौत हो गई बच्ची का खड़गपुर महकमा अस्पताल में अंत्यपरीक्षण करा पुरुलिया के लिए रवाना हुए दंपत्ति। जानकारी के मुताबिक पुरुलिया जिले के जयपुर गांव के रहने वाले दंपत्ति दिलदार अंसारी व रेशमा खातून अपनी ढाई  सप्ताह की बच्ची को साथ लेकर 8 जून को केरल के काजीमगढ़ से वापस घर आने के लिए ट्रेन में चढ़े थे। सफर के दौरान रास्ते में अचानक उनकी बच्ची ने कुछ भी प्रतिक्रिया देना बंद कर दिया तभी उन्हें शक हो गया था कि उनकी बच्ची की शायद अब इस दुनिया में नहीं रही। वहीं बाद में काजीमगढ़- नयू जलपाईगुड़ी श्रमिक स्पेशल ट्रेन जब आज दोपहर दो बजकर पचास मिनट  में खड़गपुर स्टेशन पहुंची तब दंपत्ति को ट्रेन से उतारकर डॉक्टर ने जांच के बाद बच्ची के मौत की पुष्टि कर दी।
बाद में मौत की वजह का पता लगाने के लिए बच्ची के शव को खड़गपुर महकमा अस्पताल भेजा गया जिसके बाद एंबुलेंस से दंपत्ति शव के साथ पुरुलिया रवाना हो गए जहां अंतिम संस्कार किया जाएगा। ज्ञात हो कि दंपत्ति कुल नौ लोगों की टीम के साथ लौट रहे थे पिता दिलदार का कहना है कि मंगलवार देर रात बच्ची की तबियत बिगड़ी उसके रेल हेल्पलाईन में संपर्क किया पर कोई सहायता नहीं मिला। एसआरपी अवधेश पाठक का कहना है कि बच्ची की मौत शायद गर्मी की वजह से हुई वैसे अंत्यपरीक्षण के बाद पता चल पाएगा शव व परिजन के लिए पुरुलिया एसपी ने एंबुलेंस भेजा है जिसमें परिजन शव को लेकर जाएंगे। आरपीएफ खड़गपुर पोस्ट के थाना प्रभारी डी के सिंह का कहना है कि ट्रेन आने के बाद घटना की जानकारी स्टेशन मास्टर को दी गई जिसके बाद आगे की कार्ऱवाई के लिए अस्पताल भेज दिया गया।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post