मौत के बाद कोरोना पॉजिटिव निकला प्रवासी मजदूर, घाटाल महकमा इलाके की कोरोना से हुई यह पहली मौत


खड़गपुर। पश्चिम मेदिनीपुर जिले के दासपुर थाना इलाके के बासुदेवपुर के नवीन सिमूलिया गांव के रहने वाले 45 वर्षीय एक शख्स कि रहस्यमई परिस्थिति में कोरोना की वजह से मौत हो गई। दरअसल मौत से कुछ दिन पहले ही जांच में निगेटिव आने पर उसे घर जाने की अनुमति दे दी गई थी लेकिन अब मौत के बाद दोबारा जांच करने पर मृत व्यक्ति के अंदर कोरोना के अस्तित्व पाए गए। पता चला है कि मरने वाला शख्स उत्तर प्रदेश के कानपुर में रहकर सोना कारीगर का काम करता था व बीते दिनों ही वह गांव लौटा था उस वक्त उसका ब्लड सैंपल जांच के लिए लिया गया था वहीं रिपोर्ट में वायरस निगेटिव आने पर उसे घर भेज दिया गया लेकिन बाद में घर पर ही उसकी तबीयत खराब होने पर पहले उसे घाटाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती गया कराया था जहां डॉक्टरों को संदेह होने पर उन्होंने उसे मेदिनीपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया लेकिन जाते वक्त रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। जिसके बाद नियमानुसार ब्लड सैंपल जांच किया गया जिसमें पता चला कि वह कोरोना से संक्रमित था। इस वजह से अस्पताल प्रशासन में शव परिजनों को नहीं सौंपा। घटना के बाद प्रशासन ने उसके घर को नियंत्रण क्षेत्र के दायरे में रख दिया वहीं परिवार के 8 सदस्यों को क्वॉरेंटाइन सेंटर भेज दिया गया।ज्ञात हो कि घाटाल महकमा में कोरोना से हुई यह पहली मौत है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post