दिलीप ने किया डंपिंग यार्ड का मुआयना , कहा टेस्टिंग को लेकर हो रहे सवाल, अजित ने दिलीप की मानसिक जांच की जरुरत बताया


खड़गपुर। खड़गपुर के टेंगरा स्थित डंपिंग यार्ड देखने के लिए मेदिनीपुर के सांसद दिलीप घोष आज घटनास्थल में पहुंचे व यहं पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कॉफिन मिलने की घटना के बाद यहां के लोग भयग्रस्त है। उन्होने कोरोना टेस्टिंग पर सवाल उठाते हुए कहा कि खड़गपुर में पूर्व उपपौरपिता शेख हनीफ के मामले के बाद सैंपल रिपोर्ट इतनी जल्दी कैसे आ सकती है क्योंकि सिलीगुड़ी में भाजपा कार्यकर्ताओं के कोरोना के टेस्ट की रिपोर्ट आने में तो 7 से 10 दिन का वक्त लग जाता है लेकिन यहां दो तीन दिन में रिपोर्ट आ रहा है।उन्होने कहा कि निजामुद्दीन घटना के बाद शेख हनीफ लोगों से मिले व नियम कानून नहीं माने जिसके कारण स्थिति यही उत्पन्न हुई उन्होने आशंका जताई कि इतनी जल्दी रिपोर्ट कैसे आ गए उन्होने टेस्ट पर भी प्रश्नचिन्ह लगाते हुए कहा कि निगेटिव रिपोर्ट पाजिटिव व पाजिटिव निगेटिव हो रहे हैं।
वे खड़गपुर में जनसंपर्क अभियान में शामिल हुए। उन्होने कहा कि राज्य सरकार लोकतंत्र का गला घोंट रही है। मेदिनीपुर में जिला सभापति अजीत माईती ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि दिलीप घोष ने एमबीबीएस कहां से की पता नही लेकिन वे हमेशा नकारात्मक बाते कहते हैं  केंद्रीय नेतृत्व को चाहिए कि दिलीप घोष के दिमाग का जांच करायें। माईती ने कहा कि दिलीप घोष लोगों के बीच काम नही किया अब प्रवासी पक्षी की तरह आकर बेकार की बातें कर रहे हैं टेस्ट पर सवाल उठा रहे हैं।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post