कोरोना संक्रमित किशोरी परिवार संग विशाखापत्तनम से खड़गपुर फिर आ फिर वापस विशाखापत्तनम चली गई, परिचित से मिलने आई थी आरएमपी डाक्टर ने किया था सहयोग, 27 को खड़गपुर पहुंच टेस्ट दी बुधवार को हुई पाजिटिव, शहर में हलचल

                         रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। कोरोना संक्रमित बेटी को ले विशाखापत्तनम से खड़गपुर फिर वापस निजी कार में घूम रहे हैं माता-पिता । कार में सफर कर रहे तीन लोग 27 को खड़गपुर पहुंच टेस्ट दिया जिसमें से बुधवार को किशोरी पाजिटिव निकली जिससे शहर में हलचल है। ज्ञात हो कि विशाखापत्तनम से कार में खड़गपुर पहुंची 16 वर्षीय किशोरी कोरोना पाजिटिव पाई गई है। कार से किशोरी अपने माता पिता के साथ खड़गपुर पहुंची तो विधानपल्ली के रहने वाले व नीमपुरा में चेंबर करने वाले आरएमपी डाक्टर गोपाल राव ने उनलोगों को अपने परिचित के कहने पर  स्वैब टेस्ट में सहयोग दिया। डाक्टर का कहना है कि किशोरी अपने परिवार सहति कुल तीन लोग कार में 27 को खड़गपुर पहुंचे तो किसी परिचित के कहने पर उनलोगों का स्वैब टेस्ट कराने में सहायता दे नीमपुरा अपने चेंबर चले गए रास्ते में ही परिवार अपने परिचित से मिल कर वापस चले गए यहां नहीं रुके डाक्टर का कहना है कि उनलोगों के कहने पर मैंने विधानपल्ली का अपना पता व मोबाईल नंबर दे दिया। डाक्टर राव का कहना है कि टेस्ट के दो घंटे बाद परिवार फोन कर जानकारी दी की स्वैब टेस्ट के बाद प्रशासन क्वारेंटाइन में रहने के लिए ना कह दे इसी भय से वे लोग तुरंत
विशाखापत्तनम के लिए रवाना हो गए व बालासोर पहुंचने के बाद डाक्टर उक्त जानकारी दी। इधर बुधवार को 50 वर्षीय पिता व 16 वर्षीय बेटी के कराए गए टेस्ट में से बेटी पाजिटिव निकली है यानि कोरोना पाजिटिव किशोरी सड़क मार्ग से विशाखापत्तनम से खड़गपुर व खड़गपुर से वापस विशाखापत्तनम घूम रही है जिससे रास्ते में और भी कई लोगों के संक्रमित होने का खतरा है हांलाकि किशोरी कहां से संक्रमित हुई यह पता करना मुश्किल है।पार्षद देबाशीष चौधरी ने बताया कि मामला उसके संज्ञान में आय़ा है डाक्टर खुद को उनलोगों से दूरी बनाए रहने की बात कह रहे हैं हांलाकि विशाखापत्तनम से परिवार किससे मिलने आए थे यह पता नहीं चल पाया है। पुलिस चुपके से विशाखापत्तनम लौट चुकी किशोरी व उसके परिवार को ट्रेस करने में जुटी है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

Advisement

KGP News