प्रसूति की मौत के बाद अस्पताल में हंगामा, जांच कमेटि गठित अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया परिजनों ने

खड़गपुर। झाड़ग्राम जिले के जिला सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में दीपा मंडल नामक 23 वर्षीय  गर्भवती महिला की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल में हंगामा मचाया। परिजनों का आरोप है कि अस्पताल प्रशासन की लापरवाही के कारण उन्होंने गर्भवती महिला को खो दिया है। परिजनों के मुताबिक कल जब लेबर पेन के बाद महिला को डिलीवरी के लिए अस्पताल लाए थे तब पहले तो उसे काफी देर तक बैठा कर रखा गया व फिर जब अंदर ले गए तो वहां पर कोई डॉक्टर भी मौजूद नहीं था। घंटों बाद जब डॉक्टर आए तो उन्होंने सीजर करने के लिए कहा फिर सीसीयू युनिट ले गए परिवार वालों ने आपरेशन की अनुमति दे दी लेकिन उसके बाद ऑपरेशन थिएटर में अचानक शुक्रवार की दोपहर महिला की मौत हो गई। अस्पताल कि ओर से कहा गया कि महिला को कोई गंभीर बीमारी की जिसके कारण वह डिलीवरी की दर्द सह नहीं सकी और उसकी जान चली गई। बिनपुर निवासी दीपा के पति मिठून मंडल दवा दुकान में काम करते हैं मिठून ने अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही को अपने पत्नी की मौत का जिम्मेदार बताते हुए सीएमओएच प्रकाश मिर्धा को शिकायत की है प्रकाश मिर्धा का कहना है कि मामले में जांच कमेटि बना दी गई है अगर कोई दोषी पाया गया तो कार्रवाई होगी।  ज्ञात हो कि बीते दिनों पश्चिम मेदिनीपुर जिले के घाटाल में गर्भवती महिला व अन्य रोगियों की उपेक्षा को लेकर अस्पताल में परिजनों ने उस वक्त हंगामा मचाया। दरअसल गर्भवती महिलाएं व अन्य रोगियों का सुबह दस बजे यूएसजी होना था जिसके कारण रोगियों के खाने पीने व पेशाब जाने में मनाही की गई थी लेकिन दोपहर बाद भी अस्पताल प्रशासन की ओर से यूएसजी के लिए किसी को भी बुलाया नहीं गया जिसके बाद परिजन गुस्से में आकर अस्पताल में हंगामा मचाना शुरू कर दिया बाद में काफी देर समझाने बुझाने के बाद मामला शांत हुआ।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

Advisement

KGP News
KGP News