अपहरण के आरोपी दो युवकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, डिलीवरी के बाद महिला की मौत, परिजनों ने नर्सिंग होम में किया हंगामा, आग से झुलस कर वृद्ध की मौत

441
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। नाबालिग लड़की के अपहरण के आरोप में पुलिस ने झाड़ग्राम जिले के बेलियाबेड़ा थाना इलाके के आसनबनी नामक गांव से फिरोज अली(20) व साजिम अली(21) नामक दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया। पता चला है कि पिछले साल 6 दिसंबर के दिन झाड़ग्राम के सारदापीठ मोड़ के पास से दोनों युवकों ने एक नाबालिग लड़की को अगवा कर लिया था। बाद में परिजनों के झाड़ग्राम थाने में शिकायत दर्ज कराने के बाद से पुलिस लड़की व आरोपियों की तलाश में थी। बाद में जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने झारखंड के बहरागोड़ा से अपहरण की हुई लड़की को अपहरण में इस्तेमाल की हुई गाड़ी समेत बरामद किया लेकिन मौके से दोनों आरोपी पुलिस के हाथ नही लगे। बाद में सुत्रों के हवाले से पुलिस को आरोपियों के झाड़ग्राम अपने घर आने की जानकारी मिली। जिसके बाद पुलिस ने अभियान चलाकर उनके घर से ही दोनों को गिरफ्तार किया।


इधर दूसरी ओर पश्चिम मेदिनीपुर जिले के डेबरा थाना इलाके के लोआदा गांव में डिलीवरी के बाद एक महिला की मौत हो जाने ने परिजनों ने इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगा एक नर्सिंग होम में हंगामा मचाया। बाद में पुलिस के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ। दरअसल प्रसव की पीड़ा होने के कारण परिजनों ने बेलाचक गांव की रहने वाली वर्षा नामक महिला को एक नर्सिंग होम में भर्ती करवाया। जहां उसने एक बच्ची को जन्म दिया लेकिन जन्म देने के तुरंत बाद ही वर्षा की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। फिर नर्सिंग होम के डाक्टरों ने तुरंत उसे मेदिनीपुर मेडिकल कालेज जाने की सलाह दी। लेकिन वहां से जाने से पहले ही वर्षा की नर्सिंग होम में ही मौत हो गई। घटना से गुस्साएं परिजनों ने नर्सिंग होम के खिलाफ लापरवाही का आरोप लगा वहां हंगामा मचाना शुरु कर दिया। घटना की खबर मिलने पर पुलिस वहां पहुंची व लोगों को समझा बुझाकर शांत करवाया।

इधर  खड़गपुर ग्रामीण थाना इलाके के तालबगीचा में बिड़ी की वजह से लगी आग के कारण उसमें जलने से सरंग चक्रवर्ती नामक एक वृद्ध की मौत हो गई। स्थानीय लोगों से पता चला है की सरंग शारीरिक रुप से दुर्बल व हमेशा बीमार रहने वाले शख्स थे। लेकिन फिर भी उन्हें बिड़ी पीने की बुरी लत थी जिसके कारण वह हमेशा बिड़ी पीते रहते थे। अनुमान के मुताबिक कल रात भी बिड़ी पीकर फेंकने की वजह से घर में आग लग गई व शारीरिक रुप से लाचार सरंग आग में झुलस गए जिससे उनकी मौत हो गई। बाद में सुबह घटना जानकर स्थानीय लोगों ने पुलिस को खबर दी। पुलिस वहां पहुंचकर शव को बरामद कर अंत्यपरीक्षण के लिए ले गई।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com