लालडांगा शीतला मंदिर में मूर्तियों की हुई पुनः प्राण प्रतिष्ठा अविवाहित महिला ने छू लिया था मूर्ति, मंदिर के पुरोहित को आया था सपना

430
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। अविवाहित महिला के मूर्तियों को छू लेने के बाद मंदिर के पुरोहित को आया था सपना जिसे अपशकुन मान आज मंदिर में विशेष पूजा अर्चना कर पुनः प्राण प्रतिष्ठा की गई। जानकारी के मुताबिक बीते दिनों श्रावण  सोमवार के दिन इलाके की एक अविवाहित महिला ने पूजा के दौरान मूर्तियों को छू लिया था जिसके बाद मंदिर के पुरोहित को इस संबंध में सपना आने के कारण मंदिर कमेटि व इलाके के लोगों ने मूर्ति को खंडित मान कर आज पुनः पूजा अर्चना की गई व प्राण प्रतिष्ठा की गई ज्ञात हो कि इलाके के लोग मंदिर के भगवान को जाग्रत देवी मानते हैं व किसी को भी विशेषकर महिलाओं को मूर्ति को छूने की मनाही है जिसके कारण मां शीतला व मनसा के प्रकोप से बचने के लिए पुनः प्राण प्रतिष्ठा की गई ज्ञात हो कि बीते वर्ष ही मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा हो चुकी थी। पूजा के कारण आज इलाके के लोग ने सुबह में चूल्हा नहीं जलाए। मंदिर में शीतला, मनसा के अलावा गणेश की मूर्ति स्थापित है सिर्फ मंदिर के पूजारी अशोक भद्र पूजा करते हैं जबकि अक्षय भक्ता के जिम्मे मंदिर प्रांगण के साफ सफाई की जिम्मेदारी है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com