कोरोना रोकथाम में इच्छुक नहीं है राज्य सरकारः दिलीप, राम पूजन करने वालों को जेल में ठूंसती है राज्य सरकार, दिलीप ने किया आईआईटी का दौरा, टीएमसी ने किया कटाक्ष

13

                          रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष व मेदिनीपुर के सांसद दिलीप घोष ने राज्य की ओर से घोषित तीन दिवसीय लाकडाउन पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राज्य सरकार कोरोना की रोकथाम के लिए इच्छुक नहीं है इसलिए केंद्र सरकार जो कहती है राज्य इसके ठीक उलट चलती है उन्होने कहा कि केंद्र से सहयोग लेती है व मनमानी करना चाहती है दोनों बातें एक साथ संभव नहीं दिलीप बुधवार को अपने बंगला में पत्रकारों को संबोधित करते हुए उक्त बातें कहीं। उन्होने कहा कि जो लोग राम का पूजा करना चाहते हैं राज्य सरकार उनलोगों को जेल में ठूंसना चाहती है उन्होने कहा कि राज्य के लोग क्या इसीलिए परिवर्तन किए थे। दिलीप ने कहा कि टीएमसी के कई बड़े नेता हमारे पार्टी में आए टीएमसी लोगों को भय व लालच दिखाकर अपने पार्टी में शामिल करना चाहती है जो लोग गए भी हैं वे लोग जल्द वापस आएंगे। उन्होने कहा कि घाटाल मास्टर प्लान दिखाकर टीएमसी कई बार वोट ले चुकी है अब जनता समझ चुकी है व बीते लोकसभा चुनाव में जनता ने यह बता भी दिया। ज्ञात हो कि सांसद आज आईआईटी खड़गपुर में प्रोफेसरों से मुलाकात किए इस पर कटाक्ष करते हुए टीएमसी जिलाध्यक्ष अजित माईति ने कहा कि आईआईटी के हॉस्टल में छात्रों के रहने व उनके प्रवेश करने पर तो केंद्र सरकार पाबंदी लगाती है लेकिन उनकी पार्टी के सांसद दिलीप घोष आसानी से वहां जा सकते है। तृणमूल के जिला अध्यक्ष अजीत माईति ने सवाल पूछते हुए कहा कि दिलीप घोष क्वारंटाइन में रहने की बजाय आईआईटी कैंपस से क्या कोरोना मिटाने पहुंचे थे। इधर दिलीप घोष ने आईआईटी कैंपस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि वे आईआईटी के प्रोफेसरों से कुछ महत्वपूर्ण योजनाओं के विषय में बात करने पहुंचे थे बेवजह तृणमूल इस बात को लेकर बतंगड़ बना रही है।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com