Advertisement
Home Jhargram जिला पुलिस लाइन से चली ताबड़तोड़ गोलियां, पुलिस लाइन में दहशत ...

जिला पुलिस लाइन से चली ताबड़तोड़ गोलियां, पुलिस लाइन में दहशत तीन दर्जन गोली चलाने का अनुमान, आठ घंटे बाद किया आत्मसमर्पण , परिवार की भी ली गई मदद, विभागीय जांच होगीः एसपी

782
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। झाड़ग्राम पुलिस लाइन में जूनियर कांस्टेबल के ताबड़तोड़ गोलिया चलाने से पुलिस लाइन में दहशत व्याप्त हो गया जवान को समझाने की कोशिश की गई आखिरकार आठ घंटे की मशक्कत के बाद जूनियर कांस्टबेल विनोद कुमार ने आत्मसमर्पण किया।इस बीच देशद्रोहियों को सबक सिखाने के लिए हिंदुओं को एकजुट होने की अपील करता रहा सनकी कांस्टेबल ज्ञात हो कि झाड़ग्राम शहर के डियर पार्क के पास स्थित नया जिला पुलिस लाईन में गुरुवार की दोपहर एक बजे अचानक दहशत से कांप उठा जब पुलिस लाईन में कार्यरत विनोद कुमार नामक एक जूनियर कांस्टेबल ने अचानक अपने बंदूक से ताबड़तोड़ गोलियां चलानी शुरु कर दी।

जानकारी के अनुसार उक्त कांस्टेबल का ड्युटी शस्त्रागार में था शस्त्रागर के छत पर अपने दो साथियों के बंदूक भी ले लिए व फायरिंग शुर कर दी बाद में पुलिस इलाके की घेराबंदी की व छत पर चढ़े कांस्टेबल से गोली चलाने कि वजह जानने कि कोशिश करने लगे व पुलिस ने उक्त कांस्टेबल को आश्वासन भी दिया कि कोई समस्या है तो उन्हें बताए उसे दूर किया जाएगा लेकिन पुलिस के समझाने से बाद भी उसने फायरिंग बंद नही की। आखिरकार बांकुड़ा से उसके घर से उसके मां पत्नी व भतीजा को भी समझाने लाया गया पर वह शाम चार बजे तक रुक रुक कर फायरिंग करता रहा। आखिरकार रात नौ बजे के बाद आत्मसमपर्ण को तैयार हुआ। पुलिस एंटी मायनिंग वाहन भी ले आई थी। बांकुड़ा के स्पेशल आईजी राजशेखरन व एसपी अमित राठौर ने भी काफी मशक्कत की।

एसपी राठौर ने बताया कि उसका दोपहर से शस्त्रागार में ड्यूटी था तभी मानसिक संतुलन खोकर वह फायरिंग करने लगा उसके परिजनों की भी मदद ली गई उन्होने कहा कि मामले की विभागीय जांच होगी फायरिंग में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है स्थानीय लोगों का कहना है कि 35-40 राउंड गोलियां चली जबकि पुलिस इस पर खुलासा नहीं करना चाहती। ज्ञात हो कि दशक पहले झाड़ग्राम माओवादी इलाका रहा है इससे पहले सांकराईल थाना पर माओवादियों ने हमला कर हथियार लूट लेने व थाना प्रभारी को बंधक बना लेने से दहशत का माहौल हो गया था व सिलदा में इएफआर कैंप में माओवादी जैसी घटनाओं की याद ताजा हो गई। 

Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com

0 Shares
Share via
Copy link