अंफान को देखते हुए बंगाल व उड़ीसा के तटवर्ती इलाकों में लोगों को किया गया है सतर्क, ट्रेन रूटों में भी बदलाव

250
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
रघुनाथ प्रसाद साहू

खड़गपुर ।अंफान को देखते हुए बंगाल व उड़ीसा सरकार ने तटवर्ती जिले के जिला प्रशासन को सतर्क किया है।  दीघा के समुद्र तट से टकराने वाली चक्रवाती तूफान को लेकर रविवार रात को दीघा कोस्टल थाना व दीघा थाना की ओर से तटवर्ती इलाके में अलर्ट जारी किया गया। साथ ही पूर्व मेदिनीपुर जिले के रामनगर, कांथी व खेजूरी समेत कई अन्य इलाकों में भी अलर्ट जारी किया गया है।इधर तूफान को देखते हुए रेल प्रशासन तटवर्ती इलाकों की कई ट्रेनों के रूट में बदलाव किए हैं। ज्ञात हो कि मौसम विभाग के अनुसार चक्रवर्ती तूफान दीघा समुद्र तट से अभी लगभग साढ़े ग्यारह सौ किलोमीटर दूर समंदर में है। मौसम वैज्ञानिक लगातार उस पर नजर बनाए हुए हैं व तूफान की गतिविधियों की बारीकी से जांच कर रहे है। आशंका है कि जब तूफान समुद्र तट से टकराऐगी उस वक्त 100 किलोमीटर से तेज रफ्तार से हवाएं चलेंगी व तूफान के प्रभाव से मंगलवार और बुधवार को कोलकाता, उत्तर व दक्षिण 24 परगना, पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर समेत राज्य के कई अन्य जिलों में भारी बारिश होने की भी संभावना है।

अंफान को देखते हुए भुवनेश्वर-नई दिल्ली-भुवनेश्वर विशेष एसी ट्रेन का रूट चार दिनों के लिए बदल दिया गया है.  02823/02824 भुवनेश्वर-नई दिल्ली-भुवनेश्वर एसी विशेष ट्रेन भुवनेश्वर से 19 से 22 मई तक और नई दिल्ली से 18 से 21 मई को शुरू होकर भुवनेश्वर, अनुगूल, संबलपुर सिटी, झारसुगुड़ा, राउरकेला, टाटा के रास्ते चलेगी. इसके परिणाम स्वरूप बालेश्वर, हिजली से आने और जाने वाले यात्रियों को चार दिनों तक इस ट्रेन की सेवा नहीं मिलेगी. खड़गपुर रेल मंडल के सीनियर डीसीएम आदित्य चौधरी ने बताया कि अंफान तूफान को देखते हुए रेल सारी तैयारी पूरी कर ली है और जिस तरह का रूप लेगी अंफान उसी तरह से निर्णय ले जाएंगे हिजली-भद्रक रूट के श्रमिक स्पेशल ट्रेनों  के रूट में बदलाव किया गया है 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com