हावड़ा-यशवंतपुर एक्सप्रेस से महिलाओं के लिए मेरी सहेली पायलट प्रोजेक्ट शुरु, 182 में डायल कर किसी भी समस्या के लिए सहायता पा सकती है महिलाएं, 143 आरपीएफ कांस्टेबल का हुआ पासिंग आउट, तीन प्रशिक्षित कांस्टेबल को दिया गया मेडल

21

                          रघुनाथ प्रसाद साहू
खड़गपुर। हावड़ा-यशवंतपुर एक्सप्रेस से महिलाओं के लिए मेरी सहेली पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत कर दिया गया है। अब 182 में डायल कर किसी भी समस्या के लिए सहायता पा सकती है महिलाएं। खड़गपुर आरपीएफ ट्रेनिंग सेंटर में 143 आरपीएफ कांस्टेबल का हुआ पासिंग आउट परेड तीन प्रशिक्षित कांस्टेबल को बेहतर प्रदर्शन के लिए दिया गया मेडल। ज्ञात हो कि रेलवे ने महिलाओं के लिए बनाई मेरी सहेली पायलट प्रोजेक्ट की शुक्रवार को शुरुआत कर दी है। हावड़ा से छूटने वाली यशवंतपुर एक्सप्रेस में शुरुआत की गई।

आरपीएफ ट्रेनिंग स्कुल के प्राचार्य आर के शर्मा ने बताया कि आरपीएफ के आईजी डी बी कसार की पहल पर उक्त योजना की शुरुआत की गई। उन्होने बताया कि योजना खासकर अकेली सफर कर रही महिलाओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है ट्रेन में सफर कर रही महिलाएं एस्कार्ट कर रहे आरपीएफ जवानों को बताने पर या 182 में फोन कर सूचित करें तो अगले स्टेशन में ही उसे यथासंभव मदद की जाएगी ताकि महिलाओं को ट्रेन में सफर करने में दिक्कत ना हो।

ट्रेनिंग सेंटर के चीफ ड्रिल इंसपेक्टर इकराम कुमार ने बताया कि देश भर के कुल 143 आरपीएफ कांस्टेबल जवानों का पासिंग आउट हुआ। इस अवसर पर बेहतर परफार्मेंस करने वाले तीन कासंटेबल को पुरस्कृत किया गया। इस अवसर परेड के साथ जवानों ने करतब दिखाए । इस अवसर पर  खड़गपुर रेल मंडल के डीआरएम मनोरंजन प्रधान, आरपीएफ के डीआईजी संजय मिश्रा, खड़गपुर के एसडीपीओ सुकमल कांति दास, खड़गपुर रेल मंडल के कमाडेंट विवेकानंद नारायण के अलावा अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे।   

आईजी डीबी कसार को प्रेसीडेंट पुलिस मेडल मिलने से लोगों ने दी बधाई

   आरपीएफ एसइआर के आइजी डी बी कसार को स्वाधीनता दिवस के अवसर पर बीते दिनों प्रेसीडेंट पुलिस मेडल से नवाजे जाने के लिए डीआरएम मनोरंजन प्रधान सहित अन्य मंडलीय रेल अधिकारियों ने शुभकामनाएं दी। ज्ञात हो कि  दक्षिण पश्चिम रेलवे में बच्चों के लिए चलाए गए ऑपरेशन नन्हें फरिश्ते, मुंबई में 26/11 के हमले के बाद चलाए गए अभियान ईगल टू टैकल, दक्षिण पूर्व रेलवे में गरीब यात्रियों के लिए चलाए गए अभियान रिवर फ्लो, अपराध रोकने में ड्रोन का उपयोग करने जैसे कई योजनाओं को लेकर कसार चर्चित रहे हैं लगभग 30 वर्षों की सेवा काल में उनके कई उत्कृष्ट कार्यों के लिए उन्हें राष्ट्रपति पुलिस पदक से वर्ष 2020 में सम्मानित किया गया। उन्हें यह सम्मान ट्रेन एवं रेल परिसर में अपराध पर अंकुश लगाने एवं यात्रियों के सुरक्षा से संबंधित कार्यों के लिए प्रदान किया गया। ज्ञात हो कि कसार को इससे पहले भी कई अवार्डों से नवाजा गया है।

                         advertisement

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com