Advertisement
Home crime अर्जुन सोनकर हत्याकाड के मुख्य आरोपी शिवम गिरफ्तार, नववर्ष की शाम हुई...

अर्जुन सोनकर हत्याकाड के मुख्य आरोपी शिवम गिरफ्तार, नववर्ष की शाम हुई थी हत्या, हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने का पुलिस का दावा, आंध्रप्रदेश से खड़गपुर लौटते समय नीमपुरा से हुई गिरफ्तारी,

347
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

✍रघुनाथ प्रसाद साहू

खड़गपुर, अर्जुन सोनकर हत्याकाड के मुख्य आरोपी शिवम सोनार को गिरफ्ता कर आज अदालत में पेश किया गया। पुलिस ने हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने का दावा किया है आंध्रप्रदेश से खड़गपुर लौटते समय नीमपुरा से गुरुवार की रात पुलिस ने गिरफ्तार किया था। ज्ञात हो कि सन 2021 के नए साल की संध्या में  खड़गपुर शहर के मथुराकाठी स्थित बेबी रानी मैदान के पीछे अर्जुन की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी।

जिसके बाद आरोपी युवक फरार हो गया था। खड़गपुर शहर थाना प्रभारी विश्वरंजन बनर्जी का कहना है कि झाड़खंड बस्ती वार्ड 20 के रहने वाले शिवम सोनार के साथ पुरानी रंजिश थी जिसका बदला लेने के लिए शिवम ने गोली मार अर्जुन की हत्या कर फरार हो गए थे शिवम पहले मोटरसाईकिल से नारायणगढ़ गए व वहां से छत्तीसगढ़ भाग गया जहां होटल में कुछ दिनों तक काम करने के बाद आंध्र चला गया जहां से वह अपने घर आ रहा था पुलिस शिवम का मोबाईल ट्रैक कर नीमपुरा से उसे गिरफ्तार कर खड़गपुर महकमा अदालत में पेश किया। पुलिस पूछताछ के लिए 15 दिनों की पुलिस कस्टडी की मांग की थी हालांकि 14 दिनों की जेल हिरासत में भेजा गय। पुलिस का कहना है कि प्रयुक्त हुए हथियार व मोटरसाईकिल की बरामदगी के प्रयास किए जा रहे हैं। पुलिस का कहना है कि मामले में किसी और का हाथ कि नहीं पूछताछ के बाद पता चलेगा। घटना के लगभग सात माह के बाद आरोपी की गिरफ्तारी के बाद अर्जुन के परिजन खुश है व उनलोगो को न्याय मिलने की उम्मीद है। ज्ञात हो कि अर्जुन स्वर्ण सप्लाई, मनी लैंडिंग सहित कई तरह के काम में जुटा था संभवतः मंदिर व पैसे को लेकर दोनों में झगड़ा हुआ था। मृतक युवक अर्जुन सोनकर (29) खरीदा गुरुद्वारा  के समीप नवरंग बस्ती का रहने वाला था। मृतक के पिता हेमा का कहना है कि अर्जुन दोपहर 3.30  में अपना स्कुटी लेकर निकला था घर में मछली भात बना था पर काम की बात कह घर से बिना  खाए निकल गया।

Advertisement
Advertisement

शाम लगभग 6.30 बजे वह अपने वाहन पर सवार होकर किसी कार्य से जा रहा था।तभी उसे रोक कर फायरिंग कर दी व मौके पर ही उसकी मौत हो गई थी। पता चला है कि युवक पर भी आपराधिक मामले दर्ज थे पुलिस युवक का मोबाइल  जब्त कर मामले की जांच किया था अर्जुन घटना के कुछ दिन पूर्व  टीएमसी  पार्टी से जुड़े थे।

Kharagpur: The main accused in the Arjun Sonkar murder case, Shivam Sonar, was arrested and produced in the court today. The police claimed to solved the mystery of the murder case, while returning from Andhra Pradesh to Kharagpur, the police was arrested from Nimpura on Thursday night. It is to be known that in the year 2021 On New Year’s Eve, Arjun was shot dead behind Baby Rani Maidan,  Mathurakathi, After which the accused youth had fled. Kharagpur town police IC biswaranjan Banerjee said that there was an old enmity with Shivam Sonar, a resident of Jharkhand Basti Ward 20, to take revenge, Shivam shot Arjun and fled after killing him. Shivam first went to Narayangarh on a motorcycle and from there. fled to Chhattisgarh, where after working for a few days in a hotel, he went to Andhra, from where he was coming to his home, the police tracked Shivam’s mobile and arrested him from Nimpura and produced him in the Kharagpur divisional court. Accused sent to 14 days JC. Police saId that efforts are being made to recover the used weapon and the motorcycle. After the arrest of the accused after about seven months of the incident, the family members of Arjun are happy and they are hopeful of getting justice. It is to be known that Arjun was involved in many types of work including gold supply, money landing, possibly there was a fight.  Hema, the father of the deceased, says that Arjun had left the house with his scooty at 3.30 pm, but fish rice was made in the house, but after talking about work, he left the house without eating. At around 6.30 pm, he was going for some work in his vehicle. Then he stopped and opened fire and he died on the spot. It is learned that criminal cases were also registered against the youth, police seized the youth’s mobile and investigated the matter, Arjun was associated with the TMC party a few days before the incident.

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com