तेज गति से स्कुटी चलाने का विरोध किया तो युवक की पिटाई से मौत, आरोपी ने किया आत्मसमर्पण, वाहन जब्त

248
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। खड़गपुर शहर थाना के नीमपुरा, खुदीरामपल्ली इलाके के रहने वाले बापी महतो(29) ने शुक्रवार की रात तेज गति से स्कुटी चलाने का विरोध किया तो वाहन चालक मोनू दास ने उसकी पिटाई कर दी जिससे बापी की मौत हो गई। पता चला है कि देर रात मोनू तेज गति से वाहन चला अपनी घर की ओर जा रहा था तभी गति को लेकर मोनू ने उसका विरोध किया जिसे लेकर दोनों में बहस हो गई व पिटाई से बापी घटनास्थल में गिर गया सिर में चोट आने के कारण उसकी मौत हो गई। बापी को चांदमारी अस्पताल  ले जाया गया जहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद मोनू

Advertisement
Advertisement

अपने घर में वाहन छोड़ कहीं भाग गया बाद में देर रात खड़गपुर शहर थाना में जाकर आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस का कहना है कि तेज गति व दुर्घटना को लेकर बापी व मोनू के बीच बहस होने पर बापी की पिटाई कर दी गई जिससे उसकी मौत हो गई।

मोनू के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया जाएगा। पुलिस मामले की जांच कर रही है। बापी के दोस्तों का आरोप है कि मोनू ने नशा कर रखा था व घटना के पहले दूसरे लोगों से झगड़ा किया था जिसका जिक्र करने व तेज गति का विरोध करने पर बहस व मारपीट हुई। पता चला है कि दोनों राजमार्ग के समीप अवस्थित सीमेंट फैक्ट्री में काम करता है व ठेकेदार श्रमिक है दोनों रेल के बस्ती इलाके वार्ड नंबर 12 स्थित पेट्रोल पंप के पीछे इलाके में रहते हैं। बापी शादीशुदा है व उसके पांच वर्षीय बेटी व तीन वर्षीय बेटा है। घटना से इलाके में उत्तेजना व्याप्त है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Opposing reckless driving costs yoth, beaten to death, accused surrendered, vehicle seized
Kharagpur. Bapi Mahato (29), a resident of Nimpura, Khudirampalli area of ​​Kharagpur city police station, protested against speeding drive on Friday night, driver Monu Das thrashed bapi leading to death. Monu was driving towards his house at a high speed seeing that  Monu protested against the high speed, due to which both of them got into an argument and monu beaten Bapi.  Bapi fell on the spot . Bapi was taken to Chandmari Hospital where the doctor declared him brought dead. After the incident, Monu ran away leaving the vehicle in his house and later surrendered at Kharagpur Town police station late in the night. According to the police, Bapi was beaten to death after an argument broke out between Bapi and Monu over speeding.

   Bapi’s friends alleged that Monu was intoxicated and had quarreled with other people before the incident, which led to arguments and fights on mentioning and opposing the speeding. It is learned that both work in a cement factory located near the highway as contractual laborur, Bapi  married and has a five year old daughter and three year old son.

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com