भाजपा महिला मोर्चा के कानून तोड़ो आंदोलन में तीन लोग गिरफ्तार, ममता का पुतला जलाने को लेकर पुलिस के खिलाफ अभद्र व्यवहार का आरोप

211
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

ममता साहू

Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। भाजपा महिला मोर्चा के कानून तोड़ो आंदोलन में तीन महिला को गिरफ्तार कर बाद में रिहा कर दिया गया।  ममता का पुतला जलाने को लेकर पुलिस पर अभद्र व्यवहार का आरोप भी महिला मोर्चा ने लगाया है। ज्ञात हो कि मेदिनीपुर भाजपा जिला कार्यालय से भाजपा महिला मोर्चा ने जुलुस निकाला जो कि जिलाशासक कार्यालय तक गई वहां पर आंदोलनरत महिलाओं ने ममता बनर्जी का पुतला जलाने की कोशिश की तो पुलिस के साथ झड़प हुई जिसके बाद पुलिस पुतला को जब्त कर  लिया व  आंदोलन कारी तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया बाद में तीनों को रिहा कर दिया गया ।

गिरफ्तार लोगों में महिला मोर्चा की महसचिव शंपा मंडल, उपाध्यक्षस   गीतिका दास, व खड़गपुर उत्तर मंडल की शेफाली शामिल है। महिला मोर्चा की जिला सचिव उज्ज्वला साहा ने कहा कि आंदोलन के समय महिला पुलिस गिनी चुनी संख्या में थी  पुरुष पुलिस कर्मियों ने महिलाओं पर शारीरिक अत्याचार किए महिलाओं को सड़क पर गिरा दिया व छेड़खानी की। उज्जवला का कहना है कि बलात्कार के अलावा सभी तरह के अत्याचार किए।

मेदिनीपुर कोतलावी थाना प्रभारी पार्थो पाल ने पुलिस पर लगे आरोप पर प्रतिक्रिया जाहिर नहीं की। इस अवसर पर अन्नी सिंह, सविता शर्मा, देवकी साहू, जयंती व अन्य उपस्थित थे। ज्ञात हो कि राज्य भर में महिलाओं पर हो रहे पुलिसिया अत्याचार के विरोध में आज राज्यव्यापी कानून तोड़ो आंदोलन किया गया जिसके तहत जिला में भी गिरफ्तारी दी गई।

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com