खड़गपुर में खाली पड़े रेल क्वार्टरों को सील करने की कार्रवाई शुरु होने से अवैध कब्जाधारियों में हड़कंप, कई लोगों ने किया स्वागत

227
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

✍रघुनाथ प्रसाद साहू 

Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। खड़गपुर डिवीजनल रेल्वे  मैनेजर मनोरंजन प्रधान की ओर से  खाली पड़े रेलवे क्वार्टरों में तत्काल बिजली व पानी का कनेक्शन काट सील करने के आदेश के बाद गुरुवार से रेल के इंजीनियरिंग विभाग हरकत में आ गई है जबकि अवैध तरीके से क्वार्टरों में कब्जाए लोगों में हड़कंप मच गया है इधर कई राजनीतिक दल युनियन ने रेल प्रशासन की पहल का स्वागत किया है। ज्ञाक हो कि 24 अगस्त को जारी आदेश को लागू करने के लिए आई ओ डबल्यू गुरुवार से हरकत में आ गई है शुक्रवार को आईओडब्ल्यू नार्थ वेस्ट की ओर से धनसिंग मैदान में स्थित 1/os/49 को सील कर दिया गया। स्थानीय लोगों के अनुसार उकत क्वार्टर में ठेके श्रमिक अपना सामान रखते थे। ज्ञात हो कि रेल महकमें में अवकाश प्राप्त कर्मचारियों की तुलना में नई नियुक्ति बीते कई वर्षों से ना होने से रेल के सैकड़ों क्वार्टर खाली पड़े हैं व रेल कई कालोनियों को कंडम घोषित कर चुकी है पर कई बाहुबली, राजनीतिक कार्यकर्ता, ठेकेदार सहित अन्य लोग अवैध कब्जा कर रह रहे हैं। जिससे रेल को बिजली पानी का भी नुकसान हो रहा है इसी मद्देजनर डीआरएम ने अपने आदेश में कहा है कि जैसे ही कोई रेलवे क्वार्टर खाली होता है तो उसे सील करने के साथ-साथ क्वार्टर का पानी व बिजली का कनेक्शन भी तुरंत काट दिया जाए और यह सब काम रेल्वे के अधिकारी, इलेक्ट्रिक स्टाफ और आरपीएफ की निगरानी में किया जाना चाहिए। केवल मरम्मत की जरूरत पड़ने पर ही क्वार्टर का सील तोड़ा जाना चाहिए। इसी तरह क्वार्टर के आवंटन की स्थिति में भी अधिकारियों की निगरानी में बिजली और पानी की सुविधा बहाल किया जाए। आदेश में कहा गया कि यह सब काम 31 अगस्त से पहले पहले खत्म हो जानी चाहिए। मेंस कांग्रेस के खड़गपुर रेलवे वर्कशॉप के को- आर्डिनेटर राकेश कुमार सिंह ने रेल प्रशासन की ओर से शुरु हुए कार्रवाई का स्वागत करते हुए कहा कि इंजीनियरिंग व बिजली विभाग में बहाली भी होनी चाहिए जिससे कर्मचारियों के अभाव में जूझ रहे उक्त विभाग के कर्मचारियों पर काम का बोझ ना बढ़े। उन्होने जिन कर्मचारियों को क्वार्टर का आवंटन नहीं हुआ है उन्हें भी जल्द आवंटन होने की उम्मीद जताया। कांग्रेस के रेल इलाके के अध्यक्ष मधु कामी ने बताया कि रेल प्रशासन की ओर से ट्राफिक इलाके में खाली पड़े क्वार्टरों का सर्वे गुरुवार को किया गया है। इधर टीएमसी के रेल इलाकों के अध्यक्ष बंटा मुरली ने भी डीआरएम मनोरंजन प्रधान की भूरि भूरि प्रशंसा करते हुए कार्रवाई का स्वागत करते हुए कहा कि ऐसे ही डीआरएम की जरुरत रेल को है। ज्ञात हो कि रेल इलाकों में विकास कार्यों को लेकर टीएमसी का रेल अधिकारियों के साथ 36 का आँकड़ा रहा है पर क्वार्टर सील के मुद्दे को पार्टी ने समर्थन दिया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com