गाटरपाड़ा शूटआउट मामले में सोनू को पांच दिनों की पुलिस हिरासत, छोटू का हुआ अंतिम संस्कार, धारा 302 के तहत मामला दर्ज, आपसी रंजिश का है मामला, सोनू भी हो चुका है हमले का शिकार

1215
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

खड़गपुर, गाटरपाड़ा शूटआउट मामले में सोनू को अदालत में पेश किए जाने पर पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया  गया। पुलिस सोनू से पुछताछ कर गुत्थी को सुलझाने का प्रयास कर रही है। इधर मंगलवार की रात को छोटू का अंतिम संस्कार परिजनों ने कर दिया। ज्ञात हो कि छोटू हत्याकांड में गिरफ्तार आरोपी सोनू को मंगलवार को खड़गपुर शहर थाना पुलिस खड़गपुर महकमा अदालत में पेश किया तो जज ने पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया पुलिस सात दिनों की हिरासत के लिए अदालत में प्रे किया था पर जज ने पांच दिनों की मंजूरी दी।

पुलिस सूत्रों के अनुसार सोनू के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 341, 34 व आर्म्स एक्ट 25/27 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार सोनू ने पूछताछ में अपना अपराध कबूल लिया है व पुरानी आपसी रंजिश ही घटना की मुख्य वजह है। 

मंगलवार को परिजनों ने किया अंतिम संस्कार 

संजीब यादव (छोटू) उर्फ जिला का मंगलवार को चांदमारी अस्पताल में अंत्यपरीक्षण होने के बाद शव को परिजन को सौंप दिया जिसके बाद शव का स्थानीय मंदिर तालाब में अंतिम संस्कार कर दिया गया जिसमें छोटू के दोस्त, समर्थक व स्थानीय लोग शामिल हुए। ज्ञात हो कि छोटू लोग दो भाई व दो बहने है बहन की शादी इंदा व झपाटापुर में हुई है घटना की खबर सुनने के बाद से ही बड़ी बहन अचेत हो गई थी। इधर छोटू का बड़ा भाई जो कि शहर से बाहर था घटना के बाद अंतिम संस्कार में शामिल होने खड़गपुर पहुंचा.     

 ज्ञात हो कि सावन की पहली सोमवारी की रात करीब 10:00 बजे संजीब यादव( छोटू) उर्फ जिला जब एक मीटिंग से अपने घर झीन तालाब की ओर जा रहा था तभी कथित तौर पर गाटरपाड़ा शिव मंदिर के समक्ष उसके वाहन को ईंट मार कर रोका गया फिर छोटू के सिर पर नजदीक से दो गोली चला दिया गय़ा जिसके बाद छोटू उर्फ जिला वहीं ढेर हो गया। पुलिस जिसके बाद जांच में जुट गई व आरोपी सोनू मिश्रा को गिऱफ्तार कर लिया गया। पत्नी पायल यादव ने भी घटना के लिए सोनू को जिम्मेदार माना है स्वीकार किया है दोनों के बीच लंबे समय से विवाद चल रहा था। 

सोनू पर भी हो चुका है हमला

ज्ञात हो कि शहर के झीन तालाब के पास दो गुटों की लड़ाई में सोनू मिश्रा 28 जून 21 को घायल हो गया था। उक्त घटना में पुलिस आरोपी  को हिरासत में ले पूछताछ किया था। उस दिन भी सोमवार की दोपहर झीन तालाब इलाके में कथित तौर पर विजय मिश्रा उर्फ सोनू का विरोधी गुट से भिड़ंत हो गया। बैट से हुई पिटाई से सोनू मिश्रा का सिर फट गया सोनू को चांदमारी अस्पताल ले जाने पर उसे स्टिच करा छोड़ दिया गया था। सोनू ने खड़गपुर शहर थाना में शिकायत दर्ज कराया था सोनू का कहना था कि उसे फोन कर बुलाया था जिसके बाद उसकी पिटाई कर दी जिससे उसका सिर फट गया सोनू का कहना था कि उस पर फायरिंग भी की गई थी पर वह बच गया। हांलाकि प्रथम दृष्टया पुलिस फायरिंग की घटना से इत्तेफाक नहीं रखी थी।  

 

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com