खड़गपुर महकमा अस्पताल के कैंटीन में मिला कोरोना पाजिटिव रोगी, मरीज को मेछोग्राम बोड़ोमा में स्थानांतरण किया गया, चांदमारी अस्पताल का कैंटीन सेवा फिलहाल बंद, 16 कैंटीन कर्मचारियों को होम क्वारेंटाइन में भेजा गया

569
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

                             रघुनाथ प्रसाद साहू

Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। खड़गपुर महकमा अस्पताल के कैंटीन में कोरोना पाजिटिव रोगी मिलने से अस्पताल परिसर में हड़कंप मच गया है रोगी को इलाज के लिए मेछोग्राम के बोड़ोमा कोविड अस्पताल भेज दिया गया हैज जबकि एहतियातन चांदमारी अस्पताल का कैंटीन सेवा फिलहाल बंद कर सेनिटाइज किया जा रहा है व 16 कैंटीन कर्मचारियों को होम क्वारेंटाइन में भेजा गया है। अस्पताल सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक चांदमारी अस्पताल के कैंटीन में कार्यरत ठेकेदार कर्मी के 17 वर्षीय पुत्र को बीते 21 मई को तबियत खराब होने पर अस्पताल में इलाज कराया गया व कोविड सैंपल लेकर मेदिनीपुर भेजा गया इस बीच रोगी ठीक हो जाने से कैंटीन में ही रहकर काम करता था इधर सोमवार की रात में रोगी के कोरोना पाजिटिव पाए जाने से अस्पताल परिसर में हड़कंप मच गया है अस्पताल के कैंटीन को फिलहाल लाक कर दिया गया है व सेनिटाइज किया जा रहा है ज्ञात हो कि रोगी  खड़गपुर ग्रामीण थाना के लछमापुर गांव का रहने वाला है पर पिता की तबियत खराब रहने व घर में कोई देखभाल करने वाला ना होने से रोगी बचपन से यहीं रहता है व कैंटीन के काम में हाथ बंटाता है।

सुभाषपल्ली निवासी ठेकेदार प्रशांत का कहना है कि कल जब तक रिपोर्ट आई खाना 160-170 रोगियों को डिनर बांटा जा चुका था आज कोई खाना नहीं बनाया गया रोगी के पिता अस्वस्थ होने के कारण यहीं रहता है 21 मई को तबियत बिगड़ने पर 22 को सैंपल लिया गया हांलाकि रिपोर्ट आने में देर हुई लेकिन स्वस्थ हो चुका था। ज्ञात हो कि रोगी अपने सहयोगियों के साथ ट्रेन से आए श्रमिकों को खाद्य सामग्री बांटने में मदद की थी संदेह है कि उनलोगों के संपर्क में आने के कारण उक्त घटना घटी। अस्पताल अधीक्षक कृष्णेंदु मुखर्जी का कहना है कि कुल 16 लोगों को होम क्वारेंटाईन में भेजा जा रहा है व इन लोगों के जांच के लिए सैंपल लिए जाएंगे इसमें दो महिला कर्मचारी शामिल है। जिसमें से ज्यादातर लोग अस्पताल परिसर में ही रहते हैं। ज्ञात हो कि 11 कर्मचारी पहले ही सीधे कैंटीन के काम से जुड़े हैं। अस्पताल रोगी कल्याण कमेटि के चेयरमैन निर्मल घोष का कहना है कि कैंटीन से एक कोरोना रोगी मिले हैं पर घबराने की कोई जरुरत नहीं एहतियातन सुरक्षा के सारे उपाय किए जा रहे हैं खड़गपुर के एसडीओ वैभव चौधरी ने चांदमारी अस्पताल का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया । 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com