दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ ने रेलवे प्रशासन की मनमानी पर जताया विक्षोभ, डीआरएम को सौंपा ज्ञापन, निकाली बाइक रैली

486
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर । डीजल पी ओ एच कर्मशाला में लोड की कमी, रेल कर्मचारियों की समस्याओं जैसे डी ओ पी टी की गाइडलाइन की बावजूद समय पर रेलवे कर्मचारियों को समय पर प्रमोशन नहीं मिलना, समय पर घर किराया भत्ता तथा अन्य आवश्यक भत्ते समय पर नहीं प्राप्त होना, रेलवे मजदूरों के लिए आबंटित रेलवे क्वार्टर की जर्जर स्थिति के प्रति रेलवे अधिकारियों की उदासीनता, रेलवे के पदाधिकारियों द्वारा यूनियन के पदाधिकारियों को अनावश्यक परेशान करना आदि विषयों पर विस्तृत रूप से चर्चा की गई तथा रोष भी प्रकट किया।
इसी के मद्देनजर डिवीजनल समन्यवक टी. हरिहर राव ने रेल मंडल प्रबंधक को ज्ञापन सौंपकर विक्षोभ प्रकट किया।   दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ की जोनल कार्यालय में आयोजित कर्मी सभा में यूनियन के केंद्रीय पदाधिकारियों, शाखा पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। इस सभा में भारतीय मजदूर संघ के सह-सभापति एम. पी. सिंह, दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ के जोनल अध्यक्ष प्रहलाद सिंह, जोनल सह-सभापति अजय कर, केंद्रीय कार्यकारी समिति के सदस्य पी. के. पात्रो,

कारखाना सचिव पी. के. कुंडु, सहायक कारखाना सचिव मनीष चंद्र झा, सहायक कारखाना सचिव जयंत कुमार, बलबंत सिंह, ओम प्रकाश यादव उपस्थित थे। साथ ही साथ अन्य यूनियन पदाधिकारीगण यथा संतोष सिंह, प्रकाश रंजन, रत्नाकर साहू, मनोज कुमार यादव, ललित प्रसाद शर्मा, पी. श्रीनू, कौशिक सरकार, रवि कुमार, पवन कुमार श्रीवास्तव, एन कृष्णामूर्ति, मुकुन्द राव, वी. टी. राव, मानवेंद्र बन्दोपाध्याय, एन. एस. राव, शेखर कुमार, श्यामंत, रजनीकांत, मनोज कुमार, राजेश, आरजू बानो व बड़ी संख्या में अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।

 

दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ ने विशाल बाइक रैली निकाल कर असंतोष जताया तथा खड़गपुर कारखाना के मेन गेट पर हुई विरोध सभा
जीईएनसी (भारतीय मजदूर संघ से सम्बद्ध ) ने केंद्रीय कर्मचारियों के ज्वलंत मुद्दे पर सम्पूर्ण देश में विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया। इसी के मद्देनजर दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ की ओपन लाइन व खड़गपुर कारखाना की इकाइयों ने एक बाइक रैली निकालकर रेलवे प्रशासन की उदासीनता व ढीलेपन रवैये पर असंतोष जताया। बाइक रैली लगभग सौ बाइक सवारों ने भाग लिया था। अंत में खड़गपुर कारखाना के मेन गेट में एक विरोध सभा का आयोजन किया। इस सभा में बड़ी संख्या में रेलवे कर्मचारी सम्मिलित हुए।
इस कार्यक्रम में भारतीय मजदूर संघ के सह-सभापति एम. पी. सिंह, दक्षिण पूर्व रेलवे मजदूर संघ के जोनल अध्यक्ष प्रहलाद सिंह, जोनल सह-सभापति अजय कर, केंद्रीय कार्यकारी समिति के सदस्य पी. के. पात्रो, कारखाना सचिव पी. के. कुंडु, सहायक कारखाना सचिव मनीष चंद्र झा, सहायक कारखाना सचिव जयंत कुमार, बलबंत सिंह, ओम प्रकाश यादव उपस्थित थे। साथ ही साथ अन्य यूनियन पदाधिकारीगण यथा संतोष सिंह, प्रकाश रंजन, रत्नाकर साहू, मनोज कुमार यादव, ललित प्रसाद शर्मा, पी. श्रीनू, कौशिक सरकार, रवि कुमार, पवन कुमार श्रीवास्तव, एन कृष्णामूर्ति, मुकुन्द राव, वी. टी. राव, मानवेंद्र बन्दोपाध्याय, एन. एस. राव, शेखर कुमार, श्यामंत, रजनीकांत, मनोज कुमार व बड़ी संख्या में अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।
इस मौके पर डीजल पी ओ एच कर्मशाला में लोड की कमी के लिए रेलवे प्रशासन की उदासीनता पर रोष जताया। रेल कर्मचारियों की समस्याओं जैसे डी ओ पी टी की गाइडलाइन की बावजूद समय पर रेलवे कर्मचारियों को समय पर प्रमोशन नहीं मिलना, समय पर घर किराया भत्ता तथा अन्य आवश्यक भत्ते समय पर नहीं प्राप्त होना आदि पर मुद्दों को उठाया। मजदूरों के लिए आबंटित रेलवे क्वार्टर की जर्जर स्थिति के प्रति रेलवे अधिकारियों की उदासीनता पर रोष प्रकट किया। साथ ही साथ रेलवे के मान्यता प्राप्त फेडेरेशनों के अकर्मण्यता व भ्रष्टाचार को उजागर किया जो सरकारी अधिकारियों के साथ मिलीभगत करके रेलवे कर्मचारियों को धोखा दे रहे हैं।
सभा की समाप्ति के पश्चात स्थानीय मुद्दों के लिए मुख्य कार्य प्रबंधक तथा राष्ट्रीय मुद्दों जैसे पे कमीशन कमियों, एन पी एस की समस्या आदि के लिये प्रधानमंत्री को मुख्य कार्य प्रबंधक के माध्यम से ज्ञापन सौंपा गया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com