खड़गपुर के ट्रेन ड्राइवर की सड़क दुर्घटना में व  दिव्यांग की ट्रेन से कटकर मौत, आकाशीय बिजली की चपेट में आने से दो की जान गई तीसरा झुलसा

751
Advertisement

✍रघुनाथ प्रसाद साहू

खड़गपुर,  गुरुवार की शाम खड़गपुर सहित जिले भर में हुए कालवैशाखी से जहां तापमान में गिरावट दर्ज की गई जिससे लोगों ने राहत की सांस ली तो दूसरी ओर शालबनी थाना इलाके में आकाशीय बिजली की चपेट में तीन श्रमिक आ गए जिससे दो की घटनास्थल में ही मौत हो गई जबकि तीसरे का मेदिनीपुर मेडिकल कालेज में इलाज चल रहा है। मृतक में सुनील हेम्ब्रम व महेश शामिल है जबकि शंभु टुडु घायल है।

ज्ञात हो कि गुरुवार की रात लगभग पौने सात बजे हुई कालवैशाखी के बाद बिजली गुल हो गई जिससे खड़गपुर शहर के कई इलाके के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।  इधर खड़गपुर के ट्रेन ड्राइवर की सड़क दुर्घटना में खड़गपुर नगर थाना इलाके के सांजवाल का रहने वाला रेलकर्मी बृजगोपाल मानिक (59) खड़गपुर में बतौर ट्रेन ड्राइवर कार्यरत था।सूत्रों के अनुसार बुधवार को वह केशपुर की ओर मोटरसाइकिल से जा रहा था तभी किसी अज्ञात वाहन उसे टक्कर मारकर फरार हो गया।स्थानीय लोगों द्वारा उसे खड़गपुर रेलवे मुख्य अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

इस घटना के बाद से रेल महकमे में शोक व्याप्त है गुरुवार को मानिक का अंतिम संस्कार किया गया जबकि एक घटना में हावड़ा – खड़गपुर संभाग के बीच बालिचक रेलवे स्टेशन के समीप घटित हुई।रेल राजकीय पुलिस ने रेल पटरी से गुरुवार की सुबह एक तीस वर्षीय युवक का शव बरामद किया।मृतक का नाम संदीप सामंतो बताया जाता है।पुलिस के अनुसार पूर्व मेदिनीपुर जिला के पांशकूड़ा थाना क्षेत्र के रातुलिया गांव में रहने वाला संदीप मानसिक रूप से पीड़ित था और वह गूंगा भी था।बताया जाता है कि उसने घर से कई बार बिना किसी को बताए यहाँ वहाँ चला जाता था।बुधवार के दिन भी वह शाम के भोजन करने के बाद घर से निकल गया था।गुरुवार की सुबह रेल पटरी से उसका शव पाया गया।पुलिस और उसके घरवालों का अनुमान है कि रेल लाइन पार करने के दौरान संभवतः वह किसी ट्रेन की चपेट में आ गया जिससे उसकी मौत हो गई।

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com