खेजुरी में हुए एक विधवा महिला के साथ दुष्कर्म व हत्या के प्रयास का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा!, शिशु सुरक्षा राष्ट्रीय कमीशन के लोग खेजुरी में पीड़िता के घर पहुंच परिजनों से की मुलाकात

185
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर । पूर्व मेदिनीपुर जिले के खेजुरी में हुए एक विधवा महिला के साथ दुष्कर्म व हत्या के प्रयास का मामला अब देश के सर्वोच्च न्यायालय सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। महिला के परिजनों ने दोषियों को सजा दिलाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कि है। ज्ञात हो कि बीते 4 मई को महिला के साथ दुष्कर्म किया गया था व फिर सबूत मिटाने के उद्देश्य से महिला को जहर देकर मारने की भी कोशिश की गई। लेकिन किसी तरह पड़ोसियों ने समय रहते महिला को स्थानीय अस्पताल पहुंचा दिया जिससे उसकी जान बच गई।

फिलहाल महिला का कोलकाता के अस्पताल में इलाज चल रहा है। ज्ञात हो कि इस घटना को लेकर भाजपाइयों ने काफी हंगामा मचाया था। भाजपा का कहना था कि पीड़ित महिला भाजपा समर्थक है इसलिए उसके साथ दुष्कर्म व हत्या का प्रयास किया गया। भाजपा ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन भी किया था। लेकिन अब तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है जिस पर परिजनों ने राज्य प्रशासन पर गैर जिम्मेदाराना का आरोप लगाते हुए आरोपियों को सजा दिलाने के लिए आज सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। वहीं आज राष्ट्रीय शिशु सुरक्षा कमीशन के लोग खेजुरी में पीड़िता के घर पहुंच कर उसके परिजनों से मुलाकात की व फिर स्थानीय अधिकारियों से भी इस मसले पर बातचीत की। प्रशनीय है कि क्या यह मामला अब राष्ट्रीय होता जा रहा है? के प्रयास का मामला अब देश के सर्वोच्च न्यायालय सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। महिला के परिजनों ने दोषियों को सजा दिलाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कि है। ज्ञात हो कि बीते 4 मई को महिला के साथ दुष्कर्म किया गया था व फिर सबूत मिटाने के उद्देश्य से महिला को जहर देकर मारने की भी कोशिश की गई। लेकिन किसी तरह पड़ोसियों ने समय रहते महिला को स्थानीय अस्पताल पहुंचा दिया जिससे उसकी जान बच गई। फिलहाल महिला का कोलकाता के अस्पताल में इलाज चल रहा है। ज्ञात हो कि इस घटना को लेकर भाजपाइयों ने काफी हंगामा मचाया था। भाजपा का कहना था कि पीड़ित महिला भाजपा समर्थक है इसलिए उसके साथ दुष्कर्म व हत्या का प्रयास किया गया। भाजपा ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन भी किया था। लेकिन अब तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है जिस पर परिजनों ने राज्य प्रशासन पर गैर जिम्मेदाराना का आरोप लगाते हुए आरोपियों को सजा दिलाने के लिए आज सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। वहीं बीते दिनों  शिशु सुरक्षाराष्ट्रीय कमीशन के लोग खेजुरी में पीड़िता के घर पहुंच कर उसके परिजनों से मुलाकात की व फिर स्थानीय अधिकारियों से भी इस मसले पर बातचीत की।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com