छत्तीसगढ़ से भागे आरोपी खड़गपुर के निजी लाज से बरामद, तोरवा थाना पुलिस ले गई बिलासपुर , छोटा टेंगरा स्थित गेस्ट हाउस में लिया था शरण, व्यवसायी पर हमले का है आरोप

590
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

✍रघुनाथ प्रसाद साहू/ 9434243363

खड़गपुर। छत्तीसगढ़ से भागे आरोपी को छत्तीसढ़ की पुलिस खड़गपुर शहर के छोटा टेंगरा स्थित निजी लाज से गिरफ्तार कर ले गई। जानकारी के अनुसार बिलासपुर के तोरवा में व्यापारी मनोज उभरानी पर 11 अप्रैल को ऋषभ पानिकर ने अपने साथियों के साथ जानलेवा हमला कर दिया था उस दिन शाम में मनोज अपने दोस्त रोहित अग्रवाल के साथ तोरवा के रेलवे संस्कृति भवन रोड में टहल रहे थे तभी दयालबंद निवासी ऋषभ पानिकर अपने साथियों के साथ लाठी, स्टंप लेकर हमला कर दिया जिसके बाद घायल मनोज तोरवा थाना में शिकायत दर्ज करा दी। मनोज का आरोप है कि उस पर जानलेवा हमला किया गया। ऋषभ का मनोज के साथ पुराना जमीन संबंधी विवाद था। ऋषभ के संबंधी खड़गपुर में होने पर वह भाग कर खड़गपुर आ गया व यहां के निजी लाज में शरण ले रखा था। जांच में जुटी छत्तीसगढ़ की पुलिस को ऋषभ के खड़गपुर में होने की जानकारी मिली तो बिलासपुर के डीआईजी पारुल माथुर ने बंगाल पुलिस से संपर्क साधा फिर खड़गपुर शहर थाना के अधीन हिजली टीओपी की मदद से छोट टेंगरा स्थित एक लाज में छापा मारा गया जिसके बाद छत्तीसगढ़ की पुलिस उसे बिलासपुर ले गई। हिजली थाना प्रभारी समर लायक का कहना है कि ऋषभ कंस्ट्रक्शन के काम से जुड़ा था व उसके खिलाफ धारा 307 के तहत मारपीट का आऱोप था छत्तीसगढ़ की पुलिस उसे यहां से ट्रांजिट रिमांड में ले गई बीते पांच दिनों से लाज में रह रहा था। लाज से युवा ऋषभ की गिरफ्तारी से लोग सकते में आ गए।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com