खड़गपुर में परम्परागत तरीके से हुआ रावण वध , उत्तर बंगाल के माल बाजार में विसर्जन के दौरान नदी में डूबने से 8 लोगों की मौत

228
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर।  दशहरा उत्सव कमेटी की ओर से  रावण दहन किया गया जबकि नम आंखों से मां को दी विदाई दी गई व इसी के साथ चार दिवसीय दुर्गा पूजा संपन्न हुआ। विजयादशमी की रात शहर के विभिन्न पूजा पंडालों से प्रतिमाओं को ट्रक व मेटाडोर में लादकर कंसावती नदी व अन्य जगहों में विसर्जित कर दिया गया।

रावण दहन कार्यक्रम में जिलाशासक आर आएशा,  एसडीओ दिलीप मिश्रा, एडिशनल एसपी राणा मुखर्जी, टीएमसी के जिलासभापति अजित माईति, सबंग भुईया, प्रदीप सरकार व अन्य उपस्थित थे।  अखाड़ा जूलूस के साथ राम लक्ष्मण व हनुमान पधारे व रामलीला का मंचन किया गया जिसके बाद रावण वध हुअ। 

अखाड़ा कमेटियों को पुरस्कृत किया गया। ज्ञात हो कि दशहरा उत्सव कमेटि सन 25 से दशहरा उत्सव का आयोजन करती आ रही है। इस साल पुतला आजाद ब्वायस क्लब ने 2 लाख 60 हजार के बजट में लगभग 50 फुट ऊंची पुतला बनाया था। बारिश को देखते हुए पुतले को पालिथिन से ढंका गया था।    

मालबाजार की मृतकों को केंद्र की ओर से 2 लाख रू आर्थिक सहयता की जानकारी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर दी है ज्ञात हो कि विसर्जन के दौरान हड़पा नदी में डूबकर 8 लोगों की मौत हो चुकी है व कई लोग लापता है।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com