बालिका को फोटा ना देने पाने का साल रहा है दुख. भाई सुमंत ने कीटनाशक की गंध से मदहोश हो कर लिया पान, मौत, पिता को फोटा देने आई बुआ को वापस छोड़ने जा रही बच्ची जयिता की सड़क हादसे में मौत

205
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

पेट्रोल, किरासन सहित कई चीजों के गंध कई लोगों को लुभाते हैं लेकिन इसका सेवन करने लग जाए तो जान भी जा सकती है कुछ ऐसा ही हुआ। खड़गपुर ग्रामीण थाना के गोपाली के समीप आमराकोला गांव के रहने वाले सुमंत के साथ। सुमंत राय नामक 28 वर्षीय युवक को घर में रखे कीटनाशक का गंध इतना भाया कि उसका सेवन कर लिया जब जीचलाने लगा तो इमली वगैरह खा उलटी करने का प्रयास किया स्थिति खराब हुई तो पहले प्रेमबाजार सोसायटी अस्पताल ले जाया गया जहां से हालात को देखते हुए उसे खड़गपुर महकमा अस्पताल भेज दिया गया जहां शनिवार की रात को सुमंत ने दम तोड़ दिया. बहन बालिका ने बताया कि भाई को कीटनाशक की गंध पसंद आने पर सेवन कर लिया बाद में घरवालों को बताने पर अस्पताल ले जाया गया। ज्ञात हो कि सुमंत की चार दीदी है चारों की शादी हो चुकी है जबकि सुमंत ने शादी नहीं की। दो दीदी का पति से अनबन होने पर मायके में ही रहता है माता पिता साथ रहते हैं।

साथ रहने वाले दीदी ने सुमंत को फोटा तो दिया था पर जाफला व मेदिनीपुर में बयाही गई बालिका भाई को फोटा नहीं दे सकी भैया दूज के दूसरे दिन उसने कीटनाशक खा ली थी. परिजन व पड़ोसियों का कहना है कि सुमंत पढ़ने में अच्छा था व गोपाई हाई स्कुल में उच्चमाध्यमिक तक की पढ़ाई की थी पर पर पिता आर्थिक स्थिति अच्छी ना होने के कारण आगे की पढ़ाई ना करा सके जिसके बाद से ही वह खोया खोया रहता था पहले कुछ ट्यूशन करता था पर अवसाद के कारण वह भी छोड़ दिया था। घटना से इलाके में शोक व्याप्त है।

पिता को फोटा देने आई बुआ को वापस छोड़ने जा रही बच्ची जयिता की सड़क हादसे में मौत

खड़गपुर ग्रामीण थाना से संलग्न झाड़ग्राम जिले के सांकराईल थाना के संतालडिहा के विजय शीट की साढे तीन वर्षीय बेटी की सडक दुर्घटना मौत हो गई मिली जानकारी के मुताबिक विजय शीट की बहन भाईफोटा में आई थी और रविवार आज अपने घर लौट रही थी . विजय शीट उन्हें केशियाडी थाना के खाजरा तक अपने बाइक से पहुंचाने के लिए आए थे साथ ही हठ कर उनकी छोटी बिटिया भी संग आई थी . बहन-बहनोई बाईक के पीछे बैठे थे और बच्ची को टैंक पर बैठा कर विजय बाईक चला रहा था . परिस्थितिवश विजय को हठात् ब्रेक लेनी पड़ी जिसका बडा़ ही भयंकर परिणाम निकला और पीछे से आ रही डंपर अनियंत्रित होकर बाईक को टक्कर मार दी .

नतीजतन बाईक सवार चारो यात्री छिटक कर दूर जा गिरे जिसमें विजय शीट की साढे तीन वर्षीय बेटी जयिता की मौके पर ही मौत हो गई . उनके बहन और बहनोई की खड़गपुर महकमा अस्पताल में उपचार चल रही है लेकिन हालत संगीन है . विजय शीट की भी उपचार चल रही है पर चोटें सामान्य है .

Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com