कभी चहेती रही पवित्रा मौत के बाद बनी लावारिस, परिवार को त्यागकर पवित्रा व तरुण पोस्ट मैरिज लिव इन रिलेशन में गुजार रहे थे जिंदगी, हत्यारोपी तरुण से हो रही पूछताछ

362
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

खड़गपुर, परस्पर प्रेम के आकर्षण में शादीशुदा प्रेमी युगल  अपने-अपने परिवार व बच्चे को त्याग एक नए प्रेम – बंधन के अधीन (live-in-relationship) में रह रहे थे, समाज की मान्यताओं के खिलाफ खड़गपुर ग्रामीण थाना के खेमासूली से लगे भालूकमाचा ग्राम के एक सिरे पर वे कच्ची मड़ई बनाकर बीते कई वर्षों से रह रहे थे . पडोसियों के अनुसार शुरु में सब ठीक-ठाक रहा फिर शायद आपसी लगाव-प्रीत में कमी आने लगी और आपसी समस्या व प्रेमिका पर अत्याचार शुरु हो गया .

इसी प्रकार सब चल रहा था कि बीते सोमवार की दोपहर को 42 वर्षीय प्रेमी तरुण सिंग ने 37 पवित्रा सिंग की मौत की खबर गांववासियों को दी तो खेत के काम में उलझे गांववासियों ने थोड़ी देर में आने की बाल कही इस बीच आनन फानन में तरुण ने प्रेमिका पवित्रा को गांव के समीप जंगल में मिट्टी खोद दफ्न कर दिया। गांववासी ने दफ्ना देने की खबर पाई तो उन्हें  शक हुआ तो वे मामले की सूचना कलाईकुंडा पुलिस चौकी को दी। जिसके बाद पुलिस पड़ताल शुरु की और मंगलवार को एक्जीक्यूटिव मैजिस्ट्रेट की उपस्थिति में पवित्रा की शव को गड्ढे खोद बरामद की गई शव को अंत्यपरीक्षण के लिए चांदमारी भेजा गया। ग्रामवासियों के बयान अनुसार मंगलवार की दोपहर 3 बजे तरुण पडोसियों से कहा कि उसकी साथी पवित्रा की मृत्यु हो गई है। ग्रामीणों का कयास है शारीरिक उत्पीड़न से ही अस्वस्थ होकर पवित्रा की मृत्यु हुई हो सकती है। पुलिस मामले की जांच कर रही है इधर पवित्रा की ना तो पहले पति व बच्चे ना ही मां- बाप ने पवित्रा के शव का संस्कार करने का दावा किया है इधर तरुण के प्रथम पत्नी बच्चे व पिता ने भी पवित्रा के शव को लेने में रुचि नहीं दिखाई क्योंकि दोनों बिना विवाह बंधन में बंधे एक साथ रह रहे थे। पता चला है कि पुलिस धारा 302 व 201 के तहत मामला दर्ज कर मामले की जांच कर रही है इधर तरुण से पूछताछ कर रही पुलिस का कहना है मामले की जांच चल रही है बुधवार को तरुण की अदालत में पेशी हो सकती है।

मोटरसाईकिल की चपेट में आने से पान व्यवसाय से जुड़े श्रमिक की मौत
मोटरसाईकिल की चपेट में आने से पान व्यवसाय से जुड़े श्रमिक की मौत हो गई जानकारी के मुताबिक शंभू दास नामक 51 वर्षीय वाहन चालक मोटरसाईकिल की चपेट में आ गया जिससे रविवार की रात उसकी मौत हो गई शंभूके भाई जो कि उड़ीसा के जाजपुर में काम करते हैं उसका कहना है कि दांतन के रेंगुरा गांव में पान की खेती है जिसे गांव से लाकर अपने छोटे वाहन से ब़ड़े ट्रक में लोड करने का काम शंभू करता था रविवार की रात भी काम के दौरान युनिकार्न मोटरसाईकिल डब्लयू बी 334 बी एन 0233 के चपेट में आ गया जिससे शंभू की मौत हो गई पुलिस मोटरसाईकिल को जंबत कर मामले की जांच कर रही है।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com