वर्ल्ड आन व्हील्स के माध्यम से ग्रामीण युवक युवतियों को कंप्यूटर साक्षर बना रही है डालमिया सीमेंट, सामाजिक योजनाओं के माध्यम से 30,000 लोगों को सशक्त बनाने की है योजना

52
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

खड़गपुर, वर्ल्ड आन व्हील्स के माध्यम से ग्रामीण युवक युवतियों को कंप्यूटर साक्षर बना रही है डालमिया सीमेंट। पश्चिम मेदिनीपुर जिले के शालबनी थाना के गोदापियाशाल में अत्याधुनिक बस को बाहर से देखने से लग्जरिअस टूरिस्ट बस न नजर आता है पर उक्त बस में 15 कंप्यूटर लगे हैं जिसमें सूदूर ग्रामीण इलाकों के युवा युवतियां कंप्यूटर की बेसिक, डेटा इंट्री सहित अन्य शिक्षा ले रही है ताकि स्वावलंबी बन सके। बस एक इलाके में कोर्स पूरा होने पर दूसरे इलाकों में जाकर वहां के बच्चों को शिक्षित कर रही है।

 

डालमिया सीमेंट के सीएसआर हेड श्याम सुंदर सुआर का कहना है कि कोविड पहले ही उक्त योजना की शुरुआत की गई पर कोविड में काम प्रभावित हुआ कोविड के बाद बीते लगभग दो साल से वे लोग इलाके के युवक युवतियों को कंप्यूटर साक्षर बना रहे हैं। इसके अलावा कंपनी प्लांट में ही महिलाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सबंग की चटाई बनवा रहे हैं व मार्केटिंग के लिए विभिन्न कंपनियों का सहारा ले रहे हैं ताकि महिलाएं स्वावलंबी बन सके.

 

कंपनी के कारपोरेट अफेयर्स के एजीएम कपिल मुनि पांडे ने बताय कि गोदापियाशाल रुरल हाट को विकसित किया गया है जहां गुरुवार की सुबह रविवार को पूरे दिन हाट बैठता है दुकानों के लिए चबूतरा व शेड बनाए गए हैं इसके अलावा पेयजल, शौचालय की व्यवस्था की गई है।डालमिया सीमेंट के सुधीर ने बताया कि 16 में शुरु हुए सीमेंट प्लांट से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रुप से लगभग एक हजार श्रमिक कार्यरत है।

 

30,000 लोगों को सशक्त बनाने की योजना

 

भारत की अग्रणी सीमेंट निर्माता और डालमिया भारत लिमिटेड (डीबीएल) की सहायक कंपनी डालमिया सीमेंट भारत लिमिटेड (डीसीबीएल) ने सालबोनी, मिदनापुर की अपनी बेंगॉल सीमेंट वर्क्स (BCW) उत्पादन इकाई में अपनी सीएसआर योजनाओं से मीडिया को अवगत कराया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

क्षेत्र में कंपनी की पहल पर टिप्पणी करते हुए, श्री पंकज गुप्ता, सहायक कार्यकारी निदेशक और यूनिट प्रमुख, बंगाल सीमेंट वर्क्स ने कहा, “डालमिया सीमेंट स्थानीय ग्रामीणों के उत्थान के लिए जो पहल की है उसमें शामिल है। –दीक्षा (DIKSHa), युवाओं के लिए कौशल विकास केंद्र; मशरूम की खेती, मोमबत्ती बनाना, हस्तशिल्प उत्पादन आदि जैसे अपस्किलिंग कार्यक्रमों के माध्यम से सेल्फ हेल्प ग्रुप्स के माध्यम से सूक्ष्म उद्यम निर्माण; जनजातीय विकास निधि के तहत किसानों के लिए वाडी डेवेलोपमेंट प्रोग्राम व अन्य। कंपनी समय समय पर स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन, खेलों को बढ़ावा देना, सामुदायिक बुनियादी ढांचे का निर्माण, क्षेत्र की समग्र भलाई में योगदान जैसे सामुदायिक संपर्क कार्यक्रम भी शुरू किए हैं। डालमिया सीमेंट (बीसीडब्ल्यू) मिदनापुर को सीएसआर पहल के लिए प्रतिष्ठित “जीएमएफ ग्रीन फेदर अवार्ड, 2023” मिला है।

 

Dalmia Cement Empowers 30,000 lives Through Sustainable Development Initiatives in Rural Communities in Midnapore

 

Midnapore, 8th November 2023: Dalmia Cement Bharat Limited (DCBL), India’s leading cement manufacturer and a subsidiary of Dalmia Bharat Limited (DBL), held a special showcase of its sustainable community development projects at its Bengal Cement Works (BCW) production unit in Salboni, Midnapore. The company’s initiatives under its Corporate Social Responsibility arm – Dalmia Bharat Foundation (DBF) encompass diverse training programs for men, women and youth in neighboring rural areas in both farming and non-farming sectors. The primary goal is to empower these individuals and broaden their income opportunities ensuring sustainable livelihood. Three of their significant initiative includes – World on Wheels (WoW), a digital literacy programme that offers e-education and digital resources to the underserved, Mat Craft Centre empowering rural women through upskilling and enterprise development and the Rural Haat, a community market project in collaboration with NABARD, serving farmers and community members to market their produce promoting economic opportunities. The programmes reach out to 39 villages in the surrounding area, positively impacting over 30,000 lives, helping them to build a brighter prospect for livelihood.

 

Commenting on the company’s initiatives in the region, Mr. Pankaj Gupta, Asst. Executive Director and Unit Head, Bengal Cement Works said, “At Dalmia Cement, we are deeply dedicated to drive sustainable change in rural communities we operate in. Our goal is to promote programs that ensure inclusive and sustainable growth for everyone. By providing them with essential tools, upskilling opportunities and holistic support systems, we hope to nurture thriving communities, enabling individuals to achieve self-reliance and sustainable progress. We will continue to work positively in this direction, contributing to building a stronger and more resilient nation.”

 

 

 

Dalmia Cement has been actively leading social transformation in the region through multiple initiatives focused on sustainable livelihood development. Some of these initiatives include –DIKSHa, skill development centre for youth; micro-enterprise building via Self Help Groups through upskilling programs like mushroom cultivation, candle making, handicraft production etc; WADI development programmes for farmers under the Tribal Development Fund and many more. The company has also initiated community connect programmes like organizing health camps, promotion of sports, building community infrastructure, contributing to the overall well-being of the region. Dalmia Cement (BCW) was the recipient of the prestigious “GMF Green Feather Award, 2023” for its exceptional CSR initiatives in Midnapore.

 

 

 

About Dalmia Cement (Bharat) Limited: Dalmia Cement (Bharat) Limited (DCBL), a subsidiary of Dalmia Bharat Limited (BSE Code: 542216|NSE Symbol: DALBHARAT and listed in MSE), is a leading player in the cement manufacturing segment and has been in existence since 1939. Dalmia Cement (Bharat) Limited prides itself on having one of the lowest carbon footprints in the cement world globally. It is the first cement company to commit to RE100, EP100 & EV100 (first triple joiner) – showing real business leadership in the clean energy transition by taking a joined-up approach. With a growing capacity, currently pegged at 44.6MnT, Dalmia Cement is the fourth-largest cement manufacturing group in India by installed capacity. Spread across ten states and fifteen manufacturing units, the company is a category leader in super-specialist cement used for oil well, railway sleepers and airstrips and is the country’s largest producer of Portland Slag Cement (PSC).

Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com