खड़गपुर में स्कुल खोलने की एडामास की योजना, जल्द जमीन के लिए डीएम से मिलेंगेः समर राय फाउंडर चांसलर    

153
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

✍️ रघुनाथ प्रसाद साहू/9434243363 

खड़गपुर में स्कुल खोलने की योजना एडामास ने बनाई है व इसके लिए बंगाल सरकार को पत्र लिखा गया है। चुनाव बाद जल्द जमीन के लिए डीएम से मिलने की बात कही है राइस एडामास ग्रुप के फाउंडर मेंबर व चांसलर  चांसलर समर राय ने।

Click link for video

https://youtu.be/U1uoxAj5XAk?si=v7MtxlS1t8Buapu2

 

समर राय आज राइस एडामास ग्रुप के खड़गपुर चौरंगी के निजी होटल में आयोजित सेमिनार को संबोधित करते हुए कही। समर राय ने कहा कि वह चाहते हैं कि महानगर के अलावा छोटे शहरों व गांवों के गरीब मेधावी बच्चे भी आगे आए। इसके लिए खड़गपुर में टॉडलर से लेकर 12वीं कक्षा तक के स्कुल खोलने की योजना है। उन्होने कहा कि एडामास क्वालिटी पर जोर देती है क्वांटिटी पर नहीं।

 

उन्होने बताया कि राइस जहां सरकारी नौकरी की तैयारी कराती है वहीं एडामास स्कुल  व युनिवर्सिटी एकेडेमिक शिक्षा। उन्होने बताया कि राईस एडामास पूर्वी भारत का सबसे बड़ा निजी शैक्षणिक संस्थान है। देश के कुल 17 राज्यों व छह देशों के विद्यार्थी शिक्षा लेने आते हैं उन्होने बताया कि युनिवर्सिटी दिल्ली व कोलकाता में है। राय ने अपने जीवन के संघर्षों का भी जिक्र करते हुए कहा कि कैसे वह बच्चों को कोचिंग देते देते संस्थान बनाए।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

उन्होने बताया कि एडामास में पढ़ने वाले बच्चों को ना सिर्फ स्कालरशिप दी जाती है बल्कि राज्य सरकार के स्टूडेंट क्रडिट कार्ड को मान्यता देती है। इस अवसर पर खड़गपुर नगरपालिका के चेयरपर्सन कल्याणी घोष ने कहा कि कई बार अभिभावकों की गाईडेंस ना मिलने व अर्थाभाव में गरीब मेधावी बच्चे भटक जाते हैं ऐसे बच्चों के कैरियर संवारने में संस्थानों को आगे आना चाहिए।

 

टीएमसी युवा जिला अध्यक्ष निर्माल्य ने कहा कि अन्य राज्यों में शिक्षा व स्वास्थय सेवाएं बिजनेस बन गया है पर राज्य सरकार चाहती है कि सरकारी संस्थाओं को ही दुरुस्त किया जाए व बीते 11 सालों में कई शैक्षणिक संस्थान खोले गए। इस अवसर पर पूर्व चेयरमैन रवि शंकर पांडे ने कहा क एडामास खड़गपुर में आएगी तो वह उसे पूरा सहयोग देंगे ताकि छोटे शहरों में भी प्रतिस्पर्धात्मक शैक्षणिक माहौल बने। इस अवसर पर राइस के सीईओ दीपांजन दत्ता, डान बास्को के प्राचार्य आर के मोजेज, जावेद अहमद खान, शैलेंद्र सिंह, दीपक सिंह, मो आरिफ, मो अऩीस, बजरंग वर्मा व अन्य उपस्थित थे।

 

 

Adamas plans to open a school in Kharagpur, will soon meet DM for land: Samar Rai Founder Chancellor

Adamas has planned to open a school in Kharagpur and a letter has been written to the wrst Bengal government . Founder member and Chancellor of Rice Adamas Group, Chancellor Samar Ray has said that he will meet the DM for land soon after the elections. Samar Ray said this while addressing a seminar organized at Rice Adamas Group’s private hotel in Kharagpur Chowringhee today. Samar Rai said that he wants that apart from the metropolitan cities, poor bright children from small towns and villages should also come forward. For this, there is a plan to open schools from toddler to class 12th in Kharagpur.

 

He said that Adamas emphasizes on quality and not quantity. He told that while RICE provides preparation for government jobs, Adamas School and University provide academic education. He told that Rice Adams is the largest private educational institution in Eastern India. Students from a total of 17 states and six countries came to get education. He told that the universities are in Delhi and Kolkata. Rai also mentioned the struggles of his life and said how he built institutions while coaching children.

He told that the children studying in Adamas are not only given scholarship but also recognize the student credit card of the state government. On this occasion, Chairperson of Kharagpur Municipality, Kalyani Ghosh said that many times poor meritorious children go astray due to lack of guidance and lack of money from their parents and institutions should come forward in shaping the career of such children.

 

 

TMC Youth District President Nirmalya said that in other states, education and health services have become business but the state government wants to improve the government institutions and many educational institutions were opened in the last 11 years.

 

On this occasion, former Chairman Rabi Shankar Pandey said that if ADAMAS comes to Kharagpur, he will give it full support so that a competitive educational environment can be created in small towns also. On this occasion, Rice CEO Dipanjan Dutta, Don Bosco Principal RK Moze, Javed Ahmed Khan, Shailendra Singh, Deepak Singh, Md Arif, Md Anees, Bajrang Verma and others were present.

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com