सामाजिक बहिष्कार की शिकार महिला की लाश फांसी में लटकी मिली, संपत्ति को लेकर परिजनों से भी चल रहा था विवाद

374

 

Advertisement

खड़गपुर। सामाजिक बहिष्कार की शिकार महिला की लाश फांसी में लटकी मिली है जबकि महिला का संपत्ति को लेकर परिजनों से भी विवाद चल रहा था पुलिस मामले की जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार खड़गपुर महकमा के नारायणगढ़ थाना क्षेत्र के डूरियां गाँव की रहने वाली लक्ष्मी सिंह (55) का शव उसके घर के कमरे से शुक्रवार की शाम सड़ी गली अवस्था में फंदे से लटकता पाया गया। अनुमान है कि उसकी मौत दो दिन पहले हुई होगी। घटना के बारे मे मृतका के बेटे सुभाष सिंह ने बताया कि उनके माता पिता उनके साथ नही रहते थे वे लोग अपने पैतृक संपत्ति पर एक झोपड़ी बना कर रहते थे। ज्ञात हो कि मृतका के बेटे सामाजिक बहिष्कार के कारण बहू घर छोड़ थोड़ी दूर में बस गए थे जबकि मृतका पति के साथ पैतृक घर में रहती थी तबियत खराब होने के कारण लक्ष्मी के पति अपने बेटे के घर रहा था जबकि लक्ष्मी बीते दो दिनों से अकेली थी।

सुभाष सिंह ने बताया कि उनकी माता लक्ष्मी सिंह और उसके चार चाचा के बीच पैतृक संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था जिसे लेकर मारपीट भी हो गई थी इसकी शिकायत नारायणगढ़ थाने में दी गई थी मृतका के बेटे का आरोप है कि उसकी मां की हत्या की गई है। ज्ञात हो कि लक्ष्मी का परिवार बीते कई महीने से सामाजिक संगठन की ओर से सामाजिक बहिष्कार झेल रहा था परिवार वालों को गांव वालों से मिलना उठना बैठना पानी लेने सहित अन्य कामकाज के लिए रोक लगा दी गई थी यहां तक कि मामले की जानकारी टीएमसी बूथ सभापति उतत्म माईति ने पुलिस को दी तो पुलिस लाश को बरामद कर अंत्यपरीक्षण के लिए भेजा उत्तम का कहना है कि मामले को सुलझाने की कोशिश की गई पर समाधान नहीं किया जा सका यहां तक कि पुलिस भी समाधान करने में असफल रही थी पुलिस ने अस्वाभाविक मौत की पुष्टि तो की पर सामाजिक बहिष्कार से अनभिज्ञता जाहिर की। इधर समाज से जुड़े लोग भी मामले में प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई।

Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com