मोटरसाइकिल चोरी करने के आरोपी में दो को 5 दिनों की पुलिस हिरासत

232
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर,  खड़गपुर ग्रामीण थाना  की पुलिस गोपाली इलाके से मोटरसाइकिल चोरी गिरोह के दो सदस्यों को दबोच उनके पास से चार मोटरसाइकिल भी बरामद किया।गिरफ्तार किये गये आरोपियो का नाम महावीर ठाकुर और साहाजुल मोल्ला बताया जाता है। महावीर खड़गपुर शहर के नीमपुरा इलाके का और साहाजुल सालुवा इलाके का निवासी है।मिली जानकारी के अनुसार  दोनो ने गोपाली इलाके में किराया का मकान ले रखा था।ग्रामीणों के अनुसार दोनो के पास हर दूसरे दिन नई  नई मोटरसाइकिल देखकर ग्रामीणों को उनकी हरकतों पर शक हुआ।मालूम हो कि खड़गपुर शहर के कई इलाकों में लगातार मोटरसाइकिल की चोरी की घटना में बढोत्तरी हो रही है।मोटरसाइकिल चोरी गिरोह के सदस्यों के बारे में पुलिस को सुराग तक नही मिल रही थी ।ग्रामीणों ने दोनो के किराये के मकान का घेराव किया।दोनो ने ग्रामीणों का रोष देखकर भागने की कोशिश की.लेकिन ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया.

उक्त घटना की जानकारी खड़गपुर ग्रामीण थाना पुलिस को दी गयी।सूचना मिलते ही पुलिस गोपाली इलाके में पहुँची और दोनो से कड़ी पूछताछ किया गया।पुलिस को शक होने पर दोनो को गिरफ्तार किया गया।उनके किराए के मकान से चार मोटरसाइकिल भी बरामद किया गया।पुलिस घटना की जांच करते हुये यह मालूम करने कि कोशिश कर रही कि मोटरसाइकिल चोरी गिरोह के तार और किन किन लोगो से जुड़े हुये है। खड़गपुर ग्रामीण थाना प्रभारी मोहम्मद आसिफ सनी ने बताया कि दोनों को मेदनीपुर जिला अदालत में पेश की जाने पर 5 दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा गया है पता चला है कि यह लोग गाड़ी की गाड़ी की चेसिस बदल देते थे जिसके कारण वाहन के बारे में जानकारी प्राप्त करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था।

शराबी पिता ने बेटी को घायल कर खुद की आत्महत्या

खड़गपुर, पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत खड़गपुर ग्रामीण थाना इलाके में एक व्यक्ति ने अपने घर पर झगड़ा करके और अपनी बेटी को पीटने के बाद फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली।मृतक का नाम बापी मुर्मू (38) बताया जाता है।उसकी बेटी इलाज के लिए मेदिनीपुर मेडिकल कालेज व अस्पताल में इलाजरत हैं।पुलिस एवं मृतक के बड़े भाई अर्जुन मुर्मू ने बताया कि खड़गपुर ग्रामीण थाना इलाके के बड़बुढाई गांव में रहने वाला बापी मुर्मू पेशे से ट्रैक्टर चालक था।बताया जाता है कि वह अत्यधिक मात्रा में शराब पीता था और शराब के नशे में वह प्रतिदिन अपने घर पर झगड़ा करता था।मंगलवार की देर शाम वह शराब के नशे में घर आकर अपने बेटी और पत्नी से झगड़ने लगा।शराब के नशे में उसने अपनी दस वर्षीय बेटी को बुरी तरह पीटा।उसकी पत्नी और बेटी की चिल्लाने की आवाज सुनकर आस पड़ोस के लोगो ने आकर मामले को शांत किया और उसकी बेटी को लेकर अस्पताल गए।ग्रामीणों के अनुसार मामला शांत होने के बाद सभी लोग अपने घर चले गए।घर पर बापी अकेला रह गया था।लेकिन बुधवार की सुबह बापी के घर के समीप एक पेड़ पर उसका शव लटकते देखा गया।घटना की जानकारी पुलिस को मिलते ही मौके पर पहुँचकर पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लिया और अंत्यपरीक्षण के लिए भेज दिया।ग्रामीणों एवं पुलिस का अनुमान है कि सम्भवतः नशे की हालत में और पारिवारिक अशांति के कारण उसने आत्महत्या की है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com