खड़गपुर शहर में जलजमाव को लेकर विधायक ने नगरपालिका पर साधा निशाना,  गुरुवार को जिले में लगभग 300 मिमी बारिश हुई बारिश

255
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रघुनाथ/मनोज

खड़गपुर,  खड़गपुर शहर में जलजमाव को लेकर भाजपा विधायक हिरणमय चट्टोपाध्याय ने नगरपालिका पर निशाना साधते हुए कहा कि एक दिन के बारिश में जलजमाव चिंता की बात है।उन्होने कहा कि बीते लगभग आठ साल में नगरपालिका को हजार करोड़ रु से ज्यादा फेड आबंटित हुए हैं उसके बावजूद शहर मेंजलनिकासी चरमराई हुई है इसका मतलब फंड का समुचित उपयोग नहीं हुआ। हिरण गुरुवार को रबिंद्रपल्ली इलाके का दौरा किया व लोगों को तिरपाल बांटे उन्होने कहा कि जब से वह शपथ लिए हैं खड़गपुर के गरीब तबकों के लिए खाना उपलब्ध करा रहै हैं। उन्होने खड़गपुर नगरपालिका के प्रशासक पर जलजमाव में फोटो सेशन कराने का भी आरोप लगाया।

ज्ञात हो कि प्रदीप आज जलजमाव देखने के लिए पहुंचे थे विधायक के आरोपों पर जवाब लेने के लिए प्रशसाक प्रदीप को फोन पर संपर्क करने की कोशिश की गई पर वे अनुपलब्ध रहे। ज्ञात हो कि खड़गपुर शहर के सिर्फ निचले हिस्से ही नहीं बल्कि खड़गपुर स्टेशन इलाका भी जलमग्न रहा हाथीगोलापुल के पास रेलपटरी के समीप जमीन भी धंस गए।रेल सूत्रों का कहना है कि उससे ट्रेनों के आवागमन में कोई बाधा नहीं पहुंची। ज्ञात हो कि विद्यासागर विश्वविद्यालय मौसम विज्ञान पार्क के रेन गेज से एकत्र किए गए डेटा बीते 24 घंटे में लगभग 300 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड किया है। विश्वविद्यालय में गणित के एक प्रोफेसर ने कहा कि वह पिछले 20 सालों से मौसम पर काम कर रहे हैं  मुझे अपने कैरियर में एक दिन में इतनी बारिश देखना याद नहीं है हालांकि खड़गपुर मेदिनीपुर में खतरा यहीं नहीं थमा। मौसम विभाग ने ओलावृष्टि के साथ भारी बारिश होने का अनुमान जताया है और पिछले 24 घंटों में ऑरेंज अलर्ट को रेड अलर्ट में बदल दिया गया है। माना जा रहा है कि गुरुवार दोपहर 2 बजे के बाद फिर से शुरू हुई बारिश उत्तरी खाड़ी में बना निम्न दबाव है जो धीरे-धीरे खड़गपुर और झारग्राम होते हुए पश्चिम की ओर झारखंड की ओर बढ़ रहा है। अलीपुर मौसम विभाग और भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने गुरुवार को कहा कि बांग्लादेश तट पर इस समय स्पष्ट दबाव बना हुआ है।  यह डिप्रेशन अब दक्षिण बंगाल से पश्चिम की ओर बढ़ रहा है।

बांग्लादेश से निकलने के बाद डिप्रेशन पश्चिम बंगाल होते हुए बिहार-झारखंड पहुंचेगा जिससे हावड़ा, हुगली, 24 परगना व मेदिनीपुर जिले  भारी और बहुत भारी बारिश जारी रहेगी।  समुद्र से सटे जिलों में इसका असर काफी ज्यादा होगा। कहीं 200 एमएम तक बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, अगले 48 घंटों में दक्षिण बंगाल में कम दबाव का क्षेत्र रहेगा। यानी शनिवार तक बारिश होने की संभावना है। लेकिन बारिश का सबसे ज्यादा असर शुक्रवार सुबह तक रहेगा। वहीं गुरुवार को सुबह 8 बजे से शुक्रवार सुबह 9 बजे तक खड़गपुर, मेदिनीपुर, झारग्राम और आसपास के इलाकों में रेड अलर्ट है। मौसम विज्ञानियों ने साफ कर दिया है कि पुरुलिया, बांकुरा, पश्चिमी मिदनापुर और झारग्राम जैसे पश्चिमी जिलों में शुक्रवार सुबह तक भारी बारिश होने की संभावना है।  हालांकि बारिश शनिवार तक जारी रह सकती है। इसलिए जिलों में और बारिश होने का अनुमान है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com