पूर्व माकपा सांसद वासुदेव आचार्य अस्वस्थ, खड़गपुर महकमा अस्पताल में भर्ती कराया गया डीआरएम कार्यालय के समीप भाषण देते वक्त बिगड़ी तबियत, आरसीएलयू का था कार्यक्रम

464
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

✍रघुनाथ प्रसाद साहू/9434243363

click the video link

https://youtu.be/CaDeN566mqk

पूर्व माकपा सांसद वासुदेव आचार्य की तबियत बिगड़ जाने पर उसे खड़गपुर महकमा अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी हालत स्थिर बताई गई है। जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को दोपहर में रेलवे कांट्रेक्टर लेबर युनियन का डीआरएम कार्यालय के समक्ष सभा चला था जिसमें बतौर मुख्य अतिथि भाषण देते वक्त अचानक उसकी तबियत बिगड़ गई जैसे तैसे भाषण ख्त्म कर सभा भंग कर दी गई व कार्यकर्ताओं मं हड़कंप मय गया बासुदेव को तुरंत नेताओं ने खड़गपुर महकमा अस्पताल ले जाया गया उनका ईसीजी व अन्य जांच कर मेल मेडिकल वार्ड में उसे पर्यवेक्षण के लिए रखा गया।

वासुदेव ने kgp news.in से बिस्तर में ही बात करते हुए कहा कि भाषण के दौरान उन्हें सीने में दर्द महसूस हुई व फिर सिर चकराने लगा प्रशर में गड़बडी हो गई थी जिसके बाद सुधी कार्यकर्ता उन्हें यहां ले आए उन्होने कहा कि फिलहाल वे स्वस्थ महसूस कर रहे हैं व शाम में डीआरएम को ज्ञापन सौंपने को इच्छुक है। सीटू नेता दिलीप दे ने बताया कि आज आरसीएलयू का कार्यक्रम था जिसमें भाषण देते वक्त सांसद की तबियत बिगड़ी हांलाकि प्राथमिक उपचार के बाद सांसद की हालत स्थिर है। उन्होने बताया कि रेल प्रशासन की ओर से ठेकेदार श्रमिकों को काम ना देने व कोरोना के बाद स्थानीय श्रमिकों की हालत खराब होने उनलोगों के ईएसआई व पीएफ की समस्या सहित अऩ्य समस्या को लेकर आरसीएलयू की सभा बुलाई गई थी शाम में डीआरएम को ज्ञापन सौंपना था स्थिति सामान्य रही तो ज्ञापन सौपा जाएगा अन्यथा किसी दूसरे दिन ज्ञापन दिया जाएगा। इधर सांसद के अचानक अस्वस्थ होने से वहां उपस्थित नेता कार्यकर्ता घबरा गए। ज्ञात हो कि सांसद हार्ट के रोगी है।

click thr link

https://youtu.be/yQWhi_0iBcs

लोकल ट्रेन से सफर कर अकेले खड़गपुर पहुंचे थे बासुदेव
पूर्व माकपा सांसद व आरसीएलयू के प्रदेश नेता बासुदेव ने kgpnews.in से बात करते हुए कहा कि आज सुबह अपने शहर आद्रा से वे लोकल ट्रेन से मेदिनीपुर पहुंचे व वहां से फिर हावड़ां लोकल ट्रेन पकड़कर गिरि मैदान पहुंचे व फिर सभा स्थल में शिरकत की। 81 वर्षीय वयोवृद्ध व कुशल वक्ता की कर्मठता से अस्पताल पहुंचे सीटू नेता भी दंग थे दरअसल बासुदेव की कर्मठता इसी बात से झलकती है वह अस्पताल के बेड से ही आज ही ज्ञापन सौंपकर घर जाने की बात कह रहे थे हांलाकि उनका टिकट भी नहीं हुआ है यह सलाह देने पर जाते वक्त किसी को साथ भेजा जाएगा उन्होने इंकार करते हुए कहा क वे स्वस्थ है व अकेले घर जा सकते हैं किसी को भी परेशान होने की जरुरत नहीं। बंगाल की राजनीति मे जहां भ्रष्टाचार का मुद्दा इन दिनों जोर शोर से छाया है वासुदेव की शालीनता व सहजता नए पीढ़ी के नेता कार्यकर्ताओं के लिए सीख है।

কোভিডের পর ট্রেন চলা স্বাভাবিক হয়েছে। কিন্তু স্বাভাবিক হয়নি রেলের কন্ট্রাক্টর লেবারদের রুজি রুটি। খড়গপুর ডিভিশনে এখনো অনেক কন্ট্রাক্টর কর্মীরা কাজ ফিরে পায়নি। ১)খড়গপুর স্টেশনের CTS এবং WATARING ছেলেদের কাজের টেন্ডার দ্রুত করা। ২)রেলের BOX BOYদের আগামী ১লা আগষ্ট থেকে ছাঁটাইর বিরুদ্ধে। ৩)রেল লাইনে যেসমস্ত কর্মীরা কাজ করে তাদের বেতন বাড়ানো এবং শ্রমিকদের PF & ESI সঠিকভাবে দেওয়া সহ আরো একগুচ্ছ দাবিতে আজ খড়গপুর বোগদায় DRM অফিসে বিক্ষোভ ও ডেপুটেশন চলে। বক্তব্য শেষ হলে কম: বাসুদেব আচারিয়া অসুস্থ হয়ে পড়েন এবং উনাকে খড়গপুর মহকুমা হাসপাতালে ভর্তি করা হয়। তাই DRMকে ডেপুটেশন দেওয়া যায় নি। আজকের সভায় বক্তা ছিলেন–প্রাক্তন সাংসদ ও রেলের স্ট‍্যান্ডিং কমিটির চেয়ারম্যান কম: বাসুদেব আচারিয়া, কম: শিহরণ আচার্য কম: দিলীপ দে। এবং উপস্থিত ছিলেন কম: বিজয় জানা, কম: অনিল দাস সহ অন্যান্যরা।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com