दिलीप के हाथों में तलवार देख अजित ने तरेरी आंखें, दिलीप ने भी किया पलटवार, बजी पंचायत चुनाव की डुगडुगी

278
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
भाजपा सांसद दिलीप घोष व टीएमसी के साथ सनातनी अस्त्र शस्त्र को लेकर शुरू हुआ विवाद जारी है। दरअसल खड़गपुर के नया खोली स्थित भाजपा कार्यालय में मध्य मण्डल की ओर से  आयोजित दशहरा – मिलन समारोह में  मेदिनीपुर के सांसद व भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष आमंत्रित थे जहां आयोजक सम्मान स्वरूप फूलों की हार के साथ हाथ में तलवार भी दिया जिसे दिलीप ने हवा में लहराकर तलवार वापस म्यान में रख दी  फिर क्या था तृणमूल की ओर से आरोपों की झड़ी लगनी शुरु हो गई .

तृणमूल विधायक अजित माइती कटाक्ष करते हुए कहा दिलीप आरंभ से ही हिंसा के पक्षधर रहे हैं इसीलिये उन्हें तलवार प्रदान किया जाना दर्शाता है वे राजनीति में पुनः हिंसा का सहारा लेंगे , हिंसा को बढ़ावा देंगे उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव के मद्देनजर अगर हिंसा की गई तो वैसे तो वे सब शांत है पर हिंसा का वे लोग मुंहतोड़ जवाब देंगे जिसका पलटवार करते हुए दिलीप ने कहा कि कापुरुषों को तलवार देख डर लगता है। दिलीप ने कहा कि हमें देख टीएमसी भी विजय सम्मिलिनी का आयोजन कर रही है , यह अच्छी बात है। दरअसल तलवार लहराने को लेकर बीते कुछ वर्षों से दिलीप व टीएमसी में तनी हुई है टीएमसी व प्रशासनिक अड़ंगा के बावजूद विभिन्न रामनवमी में दिलीप ने तलवार, गदा, लाठी सहित अन्य सनातनी अस्त्र लहराए  जिसका टीएमसी विरोध करती आ रही है.
राजनीतिक प्रेक्षकों का मानना है कि टीएमसी के विरोध को भाजपा नेताओं  ने मतपेटियों में भुनाने के बाद टीएमसी भी मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए जोरशोर से रामनवमी के आयोजन में जुट गई। तलवार लहराने को लेकर दोनों के बीच एक बार फिर जबानी-जंग खड़गपुर में देखने-सुनने को मिली।कई लोग इसे पंचायत चुनाव के शंखनाद मान रहे हैं।
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com