गिरि मैदान रेल ओवरब्रिज के उद्घाटन के साथ ही अरोरा लेवल क्रासिंग हुआ बंद, अब खरीदा की बारी 

402
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

✍️ रघुनाथ प्रसाद  साहू/ 94342 43363

खड़गपुर, गिरि मैदान रेल ओवरब्रिज के उद्घाटन के साथ ही अरोरा लेवल क्रासिंग को रेल प्रशासन ने बंद कर दिया है। जिसके कारण अब लोग ओवरब्रिज का ही उपयोग कर रहे हैं एप्रोच रोड तैयार होने के बाद खरीदा लेवल क्रासिंग भी बंद कर दिया जाएगा। इधर लेवल क्रासिंग बंद होने से कई लोग चिंतित है। पत्रकारों के पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए डीआरएम मो शुजात हाशमी ने बताया कि अरोरा लेवल क्रासिंग आज से बंद कर दिया गया है जबकि एप्रोच रोड होने के बाद खरीदा लेवल क्रासिंग भी बंद कर दिया जाएगा। डीआरएम ने बताया कि एप्रोच रोड बनने में सप्ताह दस दिन का समय लग सकता है जिसके बाद खरीदा लेवल क्रासिंग भी बंद कर दिया जाएगा।

https://youtu.be/M-wYXLS7oic

सांसद दिलीप घोष ने भी खरीदा लेवल क्रासिंग के बंद होने की पुष्टि करते हुए पत्रकारों को बताया कि एप्रोच रोड बनने के बाद खरीदा की ओर आने जाने वाले लोग अलटरनेट रोड का उपयोग करेंगे। उन्होने कहा कि नियम के अनुसार रेल अरोरा व खरीदा दोनों लेवल क्रासिंग बंद करेगी। उन्होने कहा कि ज्यादा क्रासिंग रखना ना सिर्फ रेल के लिए खर्चीला है यह सुरक्षा के लिहाज से भी ठीक नहीं. उन्होने कहा कि जैसे जैसे काम बढ़ेगा स्थिति का आकलन कर फैसला लिया जाएगा। इधर सीनियर डीसीएम ने भी कहा कि खरीदा के ट्राफिक स्थिति का आकलन कर निर्णय लिया जाएगा। इधर खऱीदा लेवल क्रासिंग बंद होने की बात सुन खरीदा छत्तीसपाड़ा व आसपास के इलाके के लोग चिंतित है। 

https://youtu.be/J8e4fOByIfY

क्या थी रेल प्रशासन की योजना 

गिरि मैदान रेल ओवरब्रिज की जब परिकल्पना की गई थी तो खरीदा को जाम से बचाने के लिए रेल ओवरब्रिज के बीचोंबीच खरीदा की ओर भी एक पुलिया निकालने की योजना थी ताकि खरीदा के लोग पुलिया में खरीदा से आवागमन कर सके उक्त परिस्थिति में खरीदा लेवल क्रासिंग बंद होना था लेकिन रेल ने गिरि मैदान की ओर पुलिया उतारने के लिए मार्च 2019 को नगरपालिका प्रशासन के साथ मिलकर खरीदा की ओर पुल निकालने के लिए सर्वे किया था जिसमें रेल प्रशासन का पक्ष था गोकुलपुर से गिरिमैदान होकर खड़गपुर के लिए भविष्य में थर्ड लाइन की जरुरत पड़ेगी तो उसके लिए उसे जगह चाहिए ऐसे में वह थोड़ी जगह छोड़कर ही पुलिया उतार पाएंगे रेल का कहना था जो बड़ा नाली जा रहा है उसके बाद भी पूर्वी दिशा में उसे जगह चाहिए ताकि पुल बनाया जा सके पर रेलवे की नाली के बाद छत्तीसपाड़ा की ओर चूंकि बड़े बड़े मकान बन गए हैं इसलिए उक्त जगह को खाली कराना तत्कालीन नगरपालिका पार्षद ने असंभव बता दिया था जिसके बाद ही रेल प्रशासन ने खरीदा की ओर पुलिया उतारने की योजना को जगह के अभाव में  ठंडे बस्ते में डाल सिर्फ पूर्व व पश्चिम दिशा को जोड़ने वाली पुल की निर्माण में जुट गए नए पुल को लेकर शहर वासी उत्साहित थे पर खरीदा रेल क्रासिंग को बंद करने की घोषणा से अब स्थानीय लोग चिंतित है।     

 

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com