पुस्तक मेले के अंतिम दिन बाबुल सुप्रियो ने गीत – संगीत के साथ बांधा समां, साधा राजनीतिक निशाना

302
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

रेल नगरी खड़गपुर के पुस्तक मेले के अंतिम दिन , समापन-समारोह में , बाबुल सुप्रियो बतौर अतिथि गीत – संगीत के कार्यक्रम में आमंत्रित थे . जहां वे अपनी गायन से स्रोताओं का मनोरंजन किया बेशक कार्यक्रम के दौरान कई दफा साउंड सिस्टम के तकनीकि खामी के वजह से व्यवधान पैदा होता रहा . इससे वे खिन्न भी दिखे .

 

https://youtu.be/9bmpmvORsJs

हटा सावन की घटा ……..व.  सांसो को सांसो में……..सहित बांग्ला व हिंदी के कई मधुर गीत गा लोंगो को मंत्रमुग्ध किया।

कार्यक्रम के अंत में बाबुल पत्रकारों के मुखातिब हुए और दीदी के दूत के विषय में बताते हुए कहा – ” इस कदम का मकसद आमजन से मिलकर उनकी शिकायत क्या है जानना एवं समाधान की कोशिश करना साथ ही कटाक्ष करते हुए कहा – “भाजपा के जो नेता सीबीआई ओर ईडी के कंधे पर सवार होकर राजनीति कर रहे हैं वे कमजोर हैं . ” 70% जनता के पास सुविधाएं पहुंचने का भी उन्होने दावा किया और आगे कहा – ” यदि जनता को सेवा नही मिली होती तो ’21 में लाख चेष्टा के बावजूद भाजपा को विजयी क्यो नहीं मिली . जनता को सिर्फ झूठ बोला जा रहा था .यह सब मैं और मुकुलदा अमित शाह से पहले भी कहा था कि भाजपा जनता तक पहुंच ही
नही पाई है .”


खड़गपुर पुस्तक-मेले की साहित्यिक – सांस्कृतिक कार्यक्रम के संगीतमय शाम में शिरकत के दौरान  तृणमूल  नेता बाबुल सुप्रियो संगीत के साथ राजनैतिक सक्रियता भी दिखाई .

 

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com