सांसद 26 जनवरी को करेंगे भारत माता पूजन कार्यक्रम का उद्घाटन, 5 दिनों तक चलने वाले राष्ट्रवादी सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा कवि सम्मेलन, बच्चों के लिए झूला होगा मुख्य आकर्षण, जोर शोर से चल रही तैयारी

234
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

✍️ जे आर गंभीर

” 26 जनवरी से 5 दिनों तक ‘ भारत-माता पूजन ‘ आयोजित है जो खरीदा धनसिंग मैदान में होगा . जिसका उद्घाटन 26 जनवरी की सुबह 9.30 बजे होगी. यह आयोजन बीते 7 सालों याने 2017 से की जा रही हैं . आयोजन का यह 7 वां वर्ष है इस वर्ष का आयोजन हम कुछ बडे पैमाने पर कर रहे हैं . हमारे भारतीय परंपरा में मातृभूमि की सेवा – अराधना कोई नई बात नही बल्कि अति प्राचीन , आदि संस्कृति रही है .कहा भी गया हैं – ” जननी जन्मभूमि स्वर्गादपि गरियषि ” अर्थात् जन्मभूमि स्वर्ग से भी श्रेष्ठ है. अतः मातृभूमि के प्रति प्रेम – समर्पण व देशभक्ति की भावना से हमसब भारत माता पूजन का आयोजन कर रहे हैं.

Click link for video

https://youtu.be/XJyh7cscSo0

इस कार्यक्रम का उद्घाटन पश्चिम मेदिनीपुर के सांसद दिलीप घोष करेंगे . बतौर विशेष अतिथि भारत सेवा आश्रम के श्वामी जी आमंत्रित हैं . यह आयोजन पूरे तौर पर राष्ट्रवाद से प्रेरित है और राष्ट्रभावना की अभिव्यक्ति और प्रसार को समर्पित है . 26 से 30 जनवरी तक प्रति दिन शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा . जिसमे सांस्कृतिक नृत्‍य , देशभक्ति गीत इत्यादि है . ” यह सारी जानकारी दीपसोना घाष ने दी .
इस कार्यक्रम का आयोजन भारत-माता पूजा कमिटि द्वारा की जा रही है जिसके अध्यक्ष हैं दीपसोना घोष , सचिव हैं वार्ड-13 के भाजपा पार्षद टी नागेशवर राव व कोषाध्यक्ष हैं शुभजीत चक्रवर्ती .

ज्ञात  हो कि बीते रविवार  संध्या पश्चिम मेदिनीपुर टाउन के जुगनीतला इलाके में सनतनी सेना नामक एक संगठन की ओर से भारत माता की पूजा-अर्चना आयोजित की गई थी जिसमें पश्चिम मेदिनीपुर के सांसद एवं भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष व भाजपा के जिला अध्यक्ष तापस मिश्र साथ ही अन्य नेतृत्व वृंद आमंत्रित थे . इस कार्यक्रम में आम जन की भागीदारी व उत्साह भी देखने लायक थी . सांसद दिलीप ने कहा -” मातृभूमि की सेवा – अराधना हमारे देश के लिए कोई नई बात नही बल्कि यह अति प्राचीन , आदि परंपरा है . जननी जन्म – भूमि की गरिमा स्वर्ग से भी श्रेष्ठ है ऐसी हमारी सनातनी धारणा है इसी आस्था के अंतर्गत हम जन्मभूमि को मां का दर्जा देते हैं . मां कहते हैं , सेवा – पूजा – अराधना करते हैं .

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com