चांदमारी के गर्वनमेंट कालेज आफ नर्सिंग का हुआ लैंप लाइटनिंग समारोह, 54 नर्सिंग विद्यार्थियों ने ली शपथ

208
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

✍️ रघुनाथ प्रसाद साहू 9434243363

खड़गपुर, चांदमारी के गर्वनमेंट कालेज आफ नर्सिंग का लैंप लाइटनिंग समारोह ट्राफिक क्ल्याण मंडप में हुआ जिसमें कुल 54 नर्सिंग विद्यार्थियों शपथ ली। इस अवसर पर फ्लोरेंस नाइटेंगल के योगदान को स्मरण किया गया। कालेज आफ नर्सिंग के कार्यवाही प्राचार्य बनानी दास ने बताय कि बीएसी नर्सिंग के सेकेंड बैच में कुल 54 लड़कियों का एडमिशन हुआ है जिन लोगों को शपथ दिलाई गई। वेस्ट बंगाल गवर्नमेंट आफ हेल्थ साइंस की ओर से आय़ोजित परीक्षा में बेहतर परिणाम करने वाले प्रथम बैच के परीक्षार्थी नर्सों को पुरस्कृत किया गया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

इस अवसर पर मुख्य अतिथि खड़गपुर महकमा अस्पताल के सुपरिटेंडेट उत्तम मांडी ने कहा कि आने वाले समय में यही नर्सों को एबजार्ब किया जाएगा। उन्होने कहा कि सरकार नए नर्सों को प्रशिक्षित करा रही है।

ज्ञात हो कि शिक्षण संस्थानों में सामान्यता पढ़ाई खत्म होने के बाद दीक्षांत समारोह कर डिग्री दी जाती है। पर नर्सिंग स्कुलों में सत्र के प्रारंभ में ही ओथ टेकिंग व लैंप लाइटनिंग कार्य़क्रम होता है क्योंकि नर्सों को पढ़ाई के साथ साथ काम का भी प्रशिक्षण दिया जाता है। इसलिए शपथ दिलाई जाती है वब काम के दौरान जाति धर्म, पारिवार व अन्य बातों को दूर रख निस्वार्थ भाव से सेवा करेंगी। इस अवसर पर एसीएमओएच मधुमिता, प्रशासनिक अधिकारी जयजीत लाहिड़ी व अन्य उपस्थित थे। लड़कियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किया। ज्ञात हो कि फ्लोरेंस नाइटेंगल को आधुनिक नर्सिंग शिक्षा का जनक माना जाता है क्योंकि क्रीमियन युद्ध के दौरान घायलों की उन्होंने निः स्वार्थ सेवा की थी।

 

Florence Nightingale (12 May 1820 – 13 August 1910) was an English social  reformer, statistician and the founder of modern nursing. Nightingale came to prominence while serving as a manager and trainer of nurses during the crimean war, in which she organised care for wounded soldiers at  constantinople . She significantly reduced death rates by improving hygiene and living standards. Nightingale gave nursing a favourable reputation and became an icon of victorian culture, especially in the persona of “The Lady with the Lamp” making rounds of wounded soldiers at night.

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com