जमाई षष्टी की तैयारी में जुटी सास चांदमनी का शव फंदे से झुलती मिली, तिथि भी पति संग षष्टी में नहीं जा पाई मायका, पसरा शोक 

289
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

खड़गपुर, जमाई षष्टी की तैयारी में जुटी सास चांदमनी  का शव फंदे से झुलती मिलने से शोक व्याप्त हो गया जानकारी के मुताबिक केशियाड़ी थाना के मेदरुई गांव की 53 वर्षीय चांदमनी ने जमाई षष्टी में बेटियों व दामादों को आमंत्रित किया था गुरुवार को दोनों बेटियों व दामादों को मेदरुई जाना था लेकिन सोमवार की दोपहर ही सास फंदे से झुल गई जिसके कारण हर्ष का माहौल शोक में बदल गया। जिन जमाईयों का चंदना को आज तिलक करना था उन्हीं लोगों ने चंदना की अर्थी को कंधा दिया। ज्ञात हो कि चंदना अपने पति शांतनु व बेटा के साथ रहती है बेटा कुमार  ने बताया कि मां ने बेटियों को हर साल की तरह आमंत्रित किया था फोन पर मझली बहन हीरामनी से बात हुई थी हीरामनी ने मां को षष्टी में आने की बात कही थी व 500 रु भी मांगे थे मां ने भी हामी भर दी थी क्योंकि मां छोटा मोटा काम करती है व पैसे को लेकर विशेष दिक्कत नहीं थी बेटा का कहना है कि मां सुबह से घर का काम कर तैयारियां में जुटी थी वह काम मे चला गया था घऱ में बहू व पिताजी तथा उसके दो बच्चे भी थे लेकिन दोपहर में अचानक चंदना की लाश अपनी साड़ी के फंदे से लटकते देखा तो  पुलिस को खबर दी गई शव को केशियड़ी ब्लाक अस्पताल ले जाया गया जहां उसे डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया गया। केशियाड़ी थाना पुलिस ने शव को बरामद कर अंत्यपरीक्षण करा परिजन को सौंप दिया जिसके बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया।  

Advertisement
Advertisement
Advertisement

 तिथि भी पति संग षष्टी में नहीं जा पाई मायका, पसरा शोक 

इधर मोहनपुर थाना के बोराई गांव की रहने वाली तिथि गिरि भी जमाई षष्टी में पति बच्चों संग मायके नहीं जा सकी। तिथि की अस्वाभाविक मौत विद्युतस्पर्श से हो गई जानकारी के मुताबिक तिथि के पति बासुदेव फूल बेचने का काम करते हैं दोनों का एक बेटी व एक बेटा है। मां ने बेटी दामाद को जमाई षष्टी में आने के लिए कहा था कल दोनों मां बेटी में बात भई हुई थी लेकिन तिथि ने कह दिया था वह दो दिनों के बाद आएगी क्योंकि अभी नया घर बना है व घर मे काम ज्यादा था नए घर में कर्मियों ने मोटर से नए घर के फ्लेर में पानी दे कर चले गए लेकिन विद्यत तार नए घर के कोलेप्सिबल गेट में कहीं मुड़ कर कट गए थे परिजनों का कहना है कि तिथि घर का सारा काम संभालती थी फर्श में पानी भरा था गेट में विद्युत संचार हो गया था जिसके कारण वह गेट  को जैसे ही स्पर्श की विद्यत शाक खा गई कल शाम में घटी घटना के बाद उसे मोहनपुर ब्लाक अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया पुलिस को खबर देने पर पुलिस शव को बरामद कर अंत्यपरीक्षण कराया है। एगरा थाना के अलागीर गांव के रहने वाले पिता गोकुल पात्रो का कहना है कि बेटा काम के सिलसिले में बंगलोर मे गया हुआ है व बेटी भी असमय चल गई।  

विद्युतस्पर्श से अधेड़ की मौत

इधर खड़गपुर ग्रामीण थाना के तेतुलमुड़ी के पास आरुन गांव में आज सुबह पंप का तार स्विच बोर्ड में लगाने के क्रम में विद्युतस्पर्श हो गया जिसके बाद जितेंद्र को चांदमारी अस्पताल ले जाया गया जहां 52 वर्षीय जितेंद्र को मृत घोषित कर दिया गया खड़गपुर शहर थाना पुलिस रहस्यमय मौत का मामला दर्ज कर किया है। घटना से इलाके में शोक व्याप्त है।

 

Kharagpur: Mother-in-law Chandmani, who was preparing for Jamai Shashti,  her body was found hanging. According to sources, 53-year-old Chandmani of Medrui village of Keshiyadi police station had invited her two daughters and sons-in-law in Jamai Shashti. They Had to go to Medrui, but on Monday afternoon, mother-in-law got hanged due to which the atmosphere of joy turned into mourning. The sons-in-law whose had to do Tilak today, they shouldered the bier of Chandna. It is to be known that Chandana lives with her husband Santanu and son. Son Kumar told that mother had invited daughters like every year. She had talked to  sister Hiramani over the phone. Yesterday  noon Chandana’s dead body was seen hanging from  her saree, the police was informed, she was taken to Keshiyadi block hospital where the doctor declared her dead. police  recovered the dead body and handed it over to the family members after pm, after which the last rites were performed.

Tithi also could not go to Shashti with her husband, grief spread

Tithi Giri, a resident of Borai village of Mohanpur police station, could not go to her maternal home with her husband and children on Jamai Shashti. According to the information, Tithi’s husband Basudev works as a flower seller, both of them have a daughter and a son. The mother told the daughter and son-in-law to come on Jamai Shashti. Yesterday both the mother and daughter had a talk but Tithi had said that she will come after two days because the new house has just been built and there was more work in the house. The motor went away after giving water to the floor of the new house, but the electric wire was cut somewhere in the collapsible gate of the new house. Relatives say that Tithi used to handle all the work of the house. The floor was full of water. Due to which she got electrocuted as soon as she touched the gate. After the incident last evening, she was taken to Mohanpur Block Hospital where the doctor declared her dead. Father Gokul Patro, a resident of Alagir village of Egra police station, says that the son has gone to Bangalore for work and the daughter also left untimely.

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com