डीआरएम बंगला में घेराव करने गए आरपीएफ के साथ टीएमसी की धक्कामुक्की, टीएमसी ने रेल प्रशासन पर भेदभाव का आरोप लगाया, रेलवे ने किया इंकार, सांसद ने टीएमसी की आलोचना की

364
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement


खड़गपुर, तृणमूल कर्मी द्वारा खड़गपुर के डीआरएम के बंगले को घेरने आज सुबह पहुंचे थे। जहां टीएमसी के नेता कार्यकर्ता आरपीएफ के बैरिकेड तोड़ बंगले में घुसने की कोशिश की तो  आरपीएफ व टीएमसी के बीच धक्कामुक्की हुई।

 

इस अवसर पर वक्तव्य रखते हुए देबाशीष चौधरी ने डीआरएम पर आरोप लगाया कि अपने प्रमोशन पाने के लिए डीआरएम भाजपा के पक्ष में निर्णय ले रही है। बस्ती इलाके में लोगों को प्रताड़ित किया जा रहा है खड़गपुर शहर प्रतिवादियो की भूमि है व रेल स्ट्राइक इसका उदाहरण है। 

 तृणमूल पार्षद रोहन दास का आरोप  है . रेल प्रशासन रेल के जमीन पर अनधिकृत ढंग से बसे हुए  लोगों को बेदखल करने के लिए नोटिस दी है  साथ ही रेल सुरक्षा बल लोगो पर चुनाव में भाजपा को वोट देने का दबाव बना रही है जिसका तृणमूल विरोध करती है। इधर आरपीएफ ने इंकार किया है कि ना ही कोई नोटिस दिया गया है ना ही पुराने बसे लोगों को परेशान किया गया। 

 

घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए सांसद दिलीप घोष ने कहा कि टीएमसी ने शहर के विकास के लिए कोई काम नहीं किया। नगरपालिका की ओर से कोई विकास काम नहीं हुआ अब रेल प्रशासन विकास काम कर रही है जिससे टीएमसी बौखलाई हुई है। उन्होने कहा कि टीएमसी नेता सिर्फ पार्टी कार्यालय बनाने व जबरन रेल की जमीन दखल कर व्यवसाय करना चाहती है।  

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com