राशन का गेंहू तस्करी के आरोप में दो गिरफ्तार, खड़गपुर से वर्द्धमान ले जाया जा रहा था तीन क्विंटल गेंहू कोरोना पाजिटिव की संख्या हुई 17, ड्रोन से की जा रही है निगरानी

364
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। खड़गपुर से वर्द्धमान तस्करी कर ले जा रहे राशन का गेंहू भरे वाहन को पुलिस ने जब्त किया है व दो लोगों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक खड़गपुर शहर के नीमपुरा स्थित एफसीआई के गोदाम से आज छह बोरे गेंहू अवैध तरीके से वर्द्धमान के आटा मिल ले जाया जा रहा था तभी पुलिस अभियान चला खड़गपुर ग्रामीण थाना के जीनशहर के पास खड़गपुर-मेदिनीपुर राजमार्ग से जब्त किया है व वाहन ड्राइवर सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है खड़गुपर के एसडीपीओ सुकमल कांति दास ने कहा कि गिरफ्तार लोगों से पूछताछ कर मामले की जांच चल रही है। इधर पूर्व मेदिनीपुर जिले के एगरा में डाक्टर के परिजन में एक कोरोना पाजिचिव पाया गया है जिससे पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर जिले में कोरोना पाजिटिव रोगिया की कुल संख्या 17 हो गई है। इधर बढ़ रही कोरोना रोगियों को देखते हुए पुलिस ने लाकडाउन सुनिश्चित करने के लिए ड्रोन से निगरानी शुरु की है। पश्चिम मेदिनीपुर के एसपी दीनेश कुमार ने कहा कि लाकडाउन तोड़ने वालों के लिए ड्रोन कैमरे का उपयोग किया जा रहा है लोग घरों में रहे अन्यथा कड़ी कार्रवाई की जाएगी। खड़गपुर के झपाटापुर सहित अन्य इलाकों में आज दूसरे दिन भी बेवजह घूमने वालों के वाहनों को बड़ी संख्या में जब्त किया गया। खड़गपुर के गोलबाजार में आज नगपालिका की ओर से सड़कों को सैनिटाइज किया गया।

खड़गपुर शहर थाना पुलिस की ओर से रनपा के ज़रिए जागरुकता की गई रनपा में  एक कदम के बाद दूसरे कदम के बीच की दूरी कुछ ज्यादा होती है इस खेल के ज़रिए सांकेतिक तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग को समझाया गया।

इधर मेदिनीपुर कोतवाली थाना की पुलिस हम होंगे कामयाब की स्वरलहरी में लोगों को झुमाया। इधर दिल्ली से 9 दिनों तक साइकिल चलाकर ससुराल पहुंचने वाले शख्स का गाव वालों ने विरोध किया। घटना पूर्व मेदिनीपुर जिले के कांथि 1 नंबर ब्लाक के करंजी गांव की है।

जानकारी के मुताबिक करंजी गांव के शुभेंदु नाथ भुईंया ने सात साल पहले अपनी बेटी की शादी दिल्ली के पार्थिम तिवारी के साथ किया था। 6 महीने पहले उनकी बेटी घर लौट आई तब पार्थिव के भी कांथी आने कि बात थी लेकिन लाकडाउन कि वजह से यातायात बंद होने से वह नही आ सका लेकिन उसने लाकडाउन खत्म होने का इंतजार न करते हुए साइकिल लेकर ही दिल्ली से निकल पडा़। 9 दिन की लंबी सफर के बाद सोमवार की रात वह कांथी पहुंचा जब गांव वालों को इसका पता चला तो उन्होनें विरोध किया। प्रशासन को सूचना मिलने पर शख्स को क्वारेंटाइन सेंटर भेज दिया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com